Akshaya Tritiya 2021 आज, जानें शुभ मुहूर्त व राशि के अनुसार खरीदारी का योग

वैशाख मास के शुक्ल पक्ष की तृतीया तिथि को अक्षय तृतीया मनाया जाता है।

Akshaya Tritiya 2021 सोना-चांदी व भूमि की खरीदारी से आएगी समृद्धि। अक्षय तृतीया से ही हुआ था सतयुग का आरंभ। सनातन धर्म में इस तिथि का विशेष महत्व। इसबार लॉकडाउन के कारण बाजार बंद है। इस कारण लोग सोना चांदी की खरीदारी नहीं कर सकेंगे।

Ajit KumarFri, 14 May 2021 07:44 AM (IST)

मुजफ्फरपुर, जासं। अक्षय तृतीया 14 मई को है। हालांकि इसबार लॉकडाउन के कारण बाजार बंद है। इस कारण लोग सोना चांदी की खरीदारी नहीं कर सकेंगे। आध्यात्मिक गुरु पं.कमलापति त्रिपाठी प्रमोद बताते हैं कि सनातन धर्म में अक्षय तृतीया का महत्व बेहद विशेष है। इस दिन मां लक्ष्मी की पूजा की जाती है। इस दिन सोना-चांदी खरीदना बेहद ही फलदायी माना जाता है। पुराणों में भी अक्षय तृतीया का विशेष महत्व बताया गया है। मान्यता है कि इसी दिन से सतयुग का प्रारंभ हुआ था। हर वर्ष वैशाख मास के शुक्ल पक्ष की तृतीया तिथि को अक्षय तृतीया मनाया जाता है। मान्यता है कि इस दिन शुभ कार्य किए जा सकते हैं। इसबार अक्षय तृतीया का शुभ मुहूर्त 14 मई को सुबह 05 बजकर 38 मिनट से 12:30 रात्रिपर्यंत तक रहेगा। इस दिन सोना, रत्न आभूषण, भूमि, भवन, वाहन आदि खरीदना शुभ रहेगा। 

अक्षय तृतीया का महत्व

अक्षय तृतीया का सर्वसिद्ध मुहूर्त के रूप में भी महत्व माना गया है। इस दिन बिना पंचांग देखे कोई भी शुभ कार्य किया जा सकता है। इस दिन विवाह, गृह-प्रवेश, वस्त्र-आभूषणों की खरीदारी या घर, भूखंड, वाहन आदि की खरीदारी जैसे कार्य किए जा सकते हैं। पुराणों में लिखा है कि इस दिन पितरों को किया गया तर्पण तथा पिंडदान बेहद फलदायक होती है। इस दिन गंगा स्नान करने व भगवत पूजन से समस्त पाप नष्ट हो जाते हैं। धार्मिक शास्त्रों के अनुसार ऐसा माना जाता है कि अक्षय तृतीया पर सोना खरीदने से आने वाले भविष्य में सुख-समृद्धि और अधिक धन की प्राप्ति हो सकती है। वैशाख शुक्ल पक्ष की तृतीया को अक्षय तृतीया पड़ता है इस तिथि अबूझ मुहूर्त होता है। इस दिन दान- पुण्य करना भी शुभ होता है।

ज्योतिषाचार्य पंडित प्रभात मिश्र का कहना है कि वैशाख माह की तृतीया तिथि स्वयंसिद्ध, सर्वसिद्धि मुहूर्तों में मानी गई है। शुभ व मांगलिक कार्य विवाह, गृह-प्रवेश, वस्त्र-आभूषणों, घर, भूखंड, वाहन की खरीददारी कर सकते हैं। नवीन वस्त्र, आभूषण आदि धारण करने और नई संस्था, की स्थापना या उद्घाटन श्रेष्ठ माना जाता है।

पूजन व खरीदारी का शुभ मुहूर्त :- सुबह 6:40 से 10:26 और 12:05 से शाम 7:40 तक। पितरों को तर्पण, ङ्क्षपडदान व दान अक्षय फल प्रदान करता है।

राशि के अनुसार कर सकते खरीदारी

मेष : तांबे और सोने से बनी वस्तुएं खरीदें और गेहूं का दान करें, शुभ रहेगा।

वृषभ : अक्षय तृतीया के दिन चांदी के सिक्के या चांदी से बनी वस्तु खरीद सकते हैं, लाभकारी रहेगा।अन्न और वस्त्र का दान करें।

मिथुन : चांदी के आभूषण और नए वस्त्रों की खरीद कर सकते हैं, मूंग की दाल का दान करें समृद्धि आएगी।

कर्क : चांदी खरीद सकते हैं, शुभ रहेगा। गरीबों को खाना खिलाएं, लाभ होगा।

ङ्क्षसह : सोने का आभूषण खरीदें और गरीब व्यक्ति को फल दान करें। इससे आपके सभी दुख दूर होंगे और सुख बना रहेगा।

कन्या : चांदी के सिक्के और स्टील के बने बर्तन खरीदें और मिठाई दान करें। घर में हमेशा सुख-समृद्धि बनी रहेगी।

तुला : चांदी के सिक्के खरीदें और सफेद रंग के वस्त्रों का दान करें। लाभदायक साबित होगा।

वृश्चिक : अक्षय तृतीया के दिन इस राशि के लोग तांबे का पात्र खरीदें या फिर सोने के आभूषण भी खरीद सकते हैं। आपकी आमदनी में बढ़ोतरी होगी और आर्थिक समस्याएं भी दूर होंगी।

धनु : सोने के आभूषण खरीदें और किसी मंदिर में चने की दाल दान करें। मंगलकारी रहेगा।

मकर : चांदी के सिक्के या गहने की खरीदारी करें। इस दिन लोहे का दान जरूर करें।

कुंभ राशि : सोने के आभूषण खरीदकर पत्नी को गिफ्ट करें और घर में ब्राह्मण को भोजन कराएं।

मीन : आभूषणों की खरीदारी करें और किसी गरीब को खाना खिलाएं, लाभ होगा।  

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.