दिल्ली

उत्तर प्रदेश

पंजाब

बिहार

उत्तराखंड

हरियाणा

झारखण्ड

राजस्थान

जम्मू-कश्मीर

हिमाचल प्रदेश

पश्चिम बंगाल

ओडिशा

महाराष्ट्र

गुजरात

संक्रमित की मौत के बाद अपनों ने बनाई दूरी, अभाविप कार्यकर्ताओं ने कायम की मिसाल

कोरोना संक्रमित हो गए तो पड़ोसियों ने दूरी बना ली।

मोतीपुर के महना गांव का मामला इलाज के अभाव में गई जान। अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद और बजरंग दल के कार्यकर्ता पीपीई किट पहनकर न सिर्फ शव को निजी वाहन से ले गए बल्कि उनका दाह संस्कार भी किया।

Ajit KumarWed, 12 May 2021 07:52 AM (IST)

मुजफ्फरपुर/मोतीपुर, जाटी। मोतीपुर प्रखंड के महना गांव में विनोद साह की कोरोना संक्रमण से मौत हो गई। जानकारी के अनुसार विनोद के संक्रमित होने के बाद पड़ोसियों और अपनों ने हाथ खींच लिया। न समय पर दवा मिली और न ऑक्सीजन। यहां तक कि निधन के बाद कोई दाह संस्कार के लिए भी तैयार नहीं था। अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद और बजरंग दल के कार्यकर्ता पीपीई किट पहनकर न सिर्फ शव को निजी वाहन से ले गए बल्कि उनका दाह संस्कार भी किया। अभाविप के जिला संगठन मंत्री पुरुषोत्तम ने बताया कि विनोद साह कोलकाता में प्राइवेट सेक्टर में थे। यहां घर पर ही कोरोना संक्रमित हो गए तो पड़ोसियों ने दूरी बना ली। खाना और दवा के लिए भी परेशानी होने लगी तो उन्होंने अभाविप की ओर से जारी हेल्पलाइन पर संपर्क किया। अभाविप कार्यकर्ताओं ने दवा मुहैया कराई। सोमवार की रात तबीयत अधिक खराब होने पर ऑक्सीजन सिलेंडर भी उपलब्ध कराया गया, लेकिन उनकी मौत हो गई। बताया कि विनोद की पत्नी नीतू असहाय थी पर कोई देखने वाला नहीं था। उसके बड़े बेटे को भी कोरोना का संक्रमण हो गया है। कार्यकर्ताओं की ओर से ही उसके इलाज की व्यवस्था की जा रही है। इस कार्य में प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य गुड्डू यादव, मोतीपुर नगर के नगर मंत्री चंदन यादव, सर्वेश पांडेय, जीते ठाकुर व बजरंग दल से ङ्क्षप्रस, प्रियांशु, आदित्य कुमार ङ्क्षसह, पंकज कुमार, ब्रिज भूषण कुमार व राहुल कुमार शामिल रहे।

मुशहरी प्रखंड क्षेत्र के मुखिया की पत्नी की कोरोना से मौत

मुशहरी (मुजफ्फरपुर), संस : प्रखंड क्षेत्र के एक मुखिया की पत्नी की कोरोना से मौत हो गई। पांच दिन पूर्व कोरोना पॉजिटिव होने व आक्सीजन लेवल घटने पर उन्हेंं शहर के निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया था। उनकी सास व दामाद भी कोरोना पॉजिटिव होकर इलाजरत हैं। उधर, नरौली के प्रखंड शिक्षक की कोरोना से एसकेएमसीएच में मौत हो गई। सांस लेने में परेशानी होने पर सोमवार को उन्हेंं एसकेएमसीएच में भर्ती कराया गया था। वे पूर्व सरपंच के पुत्र थे। इधर, मंगलवार को सांस लेने में परेशानी और आक्सीजन लेवल कम होने पर रोहुआ में 55 वर्षीय महिला और 30 वर्षीय युवक की देर शाम मौत हो गई। महिला कई दिनों से बीमार होकर घर पर इलाज करवा रही थी। जबकि युवक का आक्सीजन लेवल काफी कम हो जाने के कारण स्वजन सदर अस्पताल भर्ती कराने ले जा रहे थे लेकिन रास्ते में ही मौत हो गई।

 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.