दरभंगा में अनाज चोरी मामले में कार्रवाई शुरू, राज्य खाद्य निगम में वर्षों से जमे कार्यपालक सहायक का तबादला

अब लोक शिकायत निवारण कार्यालय बिरौल में तैनात कुशेश्वर दास को राज्य खाद्य निगम में पदस्थापित किया गया है। इसकी अधिसूचना जारी कर दी गई है। कर्मियों को पत्र प्राप्ति के बाद तुरंत अपने आवंटित स्थानों पर योगदान करने को कहा गया है।

Dharmendra Kumar SinghTue, 15 Jun 2021 11:13 AM (IST)
दरभंगा में अनाज चोरी मामले में शुरू हुई कार्रवाई। प्रतीकात्‍मक तस्‍वीर

दरभंगा, जासं। जिले में खाद्यान्न चोरी मामले में जिला प्रशासन ने बड़ी कार्रवाई करते राज्य खाद्य निगम में वर्षों से जमे कार्यपालक सहायक मनीष कुमार महतो का तबादला कर दिया है। उनकी जगह लोक शिकायत निवारण कार्यालय बिरौल में तैनात कुशेश्वर दास को राज्य खाद्य निगम में पदस्थापित किया गया है। इसकी अधिसूचना जारी कर दी गई है। कर्मियों को पत्र प्राप्ति के बाद तुरंत अपने आवंटित स्थानों पर योगदान करने को कहा गया है।

जानकार सूत्र बतातें हैं कि मनीष पिछले कई 11 वर्षों से राज्य खाद्य निगम में कार्यरत थे। उनके तबादले के साथ ही कार्यालय के कर्मियों में खलबली मच गई है। लेकिन, डीएम व एसएसपी के संयुक्त आदेश को धता बताकर अब तक दागी गोदाम प्रबंधक पर प्रपत्र क गठित नहीं किया जाना कई सवाल खड़े कर रहा है। इधर, कई दिनों की छुट्टी के बाद राज्य खाद्य निगम के जिला प्रबंधक अभिनव भास्कर ने भी सोमवार को योगदान दे दिया है। बावजूद प्रपत्र गठित करने की कोई कार्रवाई नहीं हुई है। ना ही इस संबंध में कोई जानकारी दी गई है। वहीं, जिले में खाद्यान्न चोरी के मामले को उजागर हुए दो हफ्ते से अधिक का समय बीत गया है। लेकिन, अब तक अनाज चोरों के गिरेबान तक पुलिस के हाथ नहीं पहुंच सके हैं। सो, पुलिस की कार्यशैली पर भी सवाल उठाने लगे है। लोग तरह-तरह की बातें करने लगे है।

हालांकि, इस मामले में पुलिस के एक वरीय अधिकारी ने बताया कि चोरी के इस खेल में कई लोग शामिल है। कार्रवाई चल रही है। जल्द ही किसी निष्कर्ष पर पहुंचने की बात कह रहे है। इधर, अपने ऊपर कार्रवाई होता नहीं देख अनाज चोरों और दागी अधिकारियों का मनोबल बढ़ गया हैं। उन्हें यकीन हो गया हैं कि अब उनके ऊपर कोई कार्रवाई नहीं होगी। मामले को रफा-दफा करा दिया जाएगा। इस मामले में पूरी सेङ्क्षटग हो गई है। किसी पर कार्रवाई की आंच नहीं आएगी। सबको क्लिन चीट मिल जाएगा। जिल प्रशासन ने पूरे प्रकरण से विभागीय एमडी को अवगत करा दिया है। जानकार बतातें हैं कि विभागीय एमडी से मिले संकेत के अनुसार, कुछ दिनों में बदलाव संभव है। बदलाव किस स्तर पर किया जाएगा, इसकी जानकारी नहीं दी गई है। लेकिन, बदलाव की पूरी संभावना व्यक्त की जा रही है।

राज्य खाद्य निगम में फेरबदल की संभावना

जानकार सूत्र बतातें हैं कि जल्द ही राज्य खाद्य निगम कार्यालय में फेरबदल हो सकता हैं। हालांकि, अभी तक इसकी आधिकारिक पुष्टि नहीं की गई हैं। लेकिन, इस संभावना से इंकार भी नहीं किया जा सकता है। फिलहाल राज्य खाद्य निगम के एक कर्मी का तबादला किया गया है। पूरे प्रकरण को लेकर विभाग संजीदा बना हुआ है। सूत्र यहां तक बताते हैं कि जिला प्रशासन की ओर से राज्य खाद्य निगम के एमडी को भेजे गए पत्र में प्रशासनिक ²ष्टिकोण व कार्यहित में नए हाथों में कमान सौंपने की बात कही गई है। यदि ऐसे होता हैं तो विभाग जल्द यहां नए पदाधिकारी की तैनाती करेगा।

कालाबाजारियों की बल्ले-बल्ले

जिले में अनाज चोरी प्रकरण में कालाबाजारियों पर अब तक किसी प्रकार की कोई कार्रवाई नहीं होने से उनकी बल्ले-बल्ले हैं।नाम नहीं छापने की शर्त पर एक डीलर ने बताया कि अनाज के चोर इस बात को लेकर खुशी मना रहे हैं कि पूरे प्रकरण में यदि किसी पर कार्रवाई होती है तो इसमें विभाग के अधिकारी और कर्मी सीधे तौर पर फसंगे। उन्हें कोई नुकसान नहीं होगा।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.