West champaran road accident: मौत को दावत देती बेत‍िया की सड़कें, नौ महीने में गई 116 की जान

West Champaran Road Accident सरकारी रिकॉर्ड के अनुसार जनवरी से सितंबर तक 148 स्थलों पर हुई सड़क दुर्घटना 111 लोग गंभीर रुप में जख्मी अस्पताल में इलाज के बाद जी रहे दर्द की ज‍िंदगी। आए द‍िन होने वाली घटनाओं से परेशान हैं लोग।

Dharmendra Kumar SinghWed, 24 Nov 2021 05:04 PM (IST)
लौरिया पथ में बसवरिया पेट्रोल पंप के समीप सड़क जाम करते ग्रामीण। जागरण

पश्‍च‍िम चंपारण (बेतिया), जासं। जिले की सड़कें खूनी बन गई है। सड़क हादसे में आए दिन लोगों की जान जा रही है। कई बार दूसरों की गलती के कारण बेवक्त लोग मौत के मुंह में समा रहे। जबकि सड़क हादसे में घायल होकर महीनो महीनो तक अस्पताल में पड़े रहते हैं। हादसे में कई लोग अपंग हो चुके हैं। इनकी ङ्क्षजदगी तबाह हो गई है। वर्ष 2021 में सितंबर माह तक सड़क हादसे में जिले में अब तक 116 लोगों ने जान गंवा दिया है। जबकि 111 लोग घायल हुए हैं। जिला परिवहन कार्यालय में दर्ज आंकड़ों के अनुसार बेतिया और बगहा पुलिस जिला में जनवरी से सितंबर माह तक 148 हादसे हुए हैं। इन हादसों में 116 लोगों की जान जा चुकी है। जबकि वास्तविक रूप से देखें तो हादसों की संख्या बढ़ सकती है। कारण कि सड़क हादसे के कई मामले में प्राथमिकी दर्ज नहीं होती। प्राथमिकी दर्ज नहीं होने पर सरकारी रिकॉर्ड में इसकी गिनती नहीं की जाती। अमूमन प्रतिदिन जिले के किसी ने किसी इलाके से सड़क हादसे की सूचना आती रहती हैं। हादसों का ग्राफ लगातार बढऩे के बाद भी सड़क हादसे रोकने के लिए प्रशासनिक पहल सिर्फ कागजों तक सिमटा है।

तेज रफ्तार लोगों की लील रही जान

सड़क हादसे का एक बड़ा कारण यातायात नियमों का उल्लंघन और तेज रफ्तार है। रफ्तार पर लगाम के लिए यहां कोई प्रबंध नहीं है। जिले की अधिकतर सड़कें अब चिकनी हो गई है। इन सड़कों पर लोग फर्राटा से वाहन चलाते हैं। रफ्तार की होड़ में यातायात नियमों का भी उल्लंघन करते हैं। बिना ड्राइङ्क्षवग लाइसेंस के भी वाहन चलाना यहां आम बात है। कई बार दूसरे की गलती की वजह से लोग हादसे के शिकार हो जाते हैं।

माहवार सड़क हादसे और मृतकों की संख्या एक नजर में

माह - मौत - घायल - हादसों की संख्या

जनवरी--- 18--- 11 --17

फरवरी ---17-- 21-- 23

मार्च --- 23 -- 28-- 27

अप्रैल -- 13 -- 12--18

मई --- 09 -- 04 --10

जून -- 08 -- 04 --11

जुलाई --11 -- 04 -- 13

अगस्त -- 07-- 15 -- 17

सितंबर --10 --12 -- 12

-सड़क हादसे की एक बड़ी वजह यातायात नियमों का उल्लंघन और लापरवाही है। लोगों को सड़क पर यातायात नियमों का पालन करना चाहिए। सड़क हादसे से बचने के लिए लोगों को जागरूक किया जाता है। समय-समय पर चालकों को ट्रेन‍िंंग भी दी जाती है। नियमों का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ कार्रवाई होती है। -राजेश कुमार स‍िंंह, जिला परिवहन पदाधिकारी, बेतिया।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.