Coronavirus Second wave in Muzaffarpur: जिले में सर्वाधिक 554 मिले नए कोरोना संक्रमित, चार की मौत

मुजफ्फरपुर में 554 मिले नए कोरोना संक्रमित, चार की मौत।

Coronavirus Second wave in Muzaffarpur 02 न्यायिक अधिकारी समेत आधा दर्जन कर्मचारी भी पॉजिटिव। 58 लोगों को स्वस्थ होने के बाद कर दिया गया डिस्चार्ज। 12 नए मरीज भर्ती किए गए प्रसाद हॉस्पिटल जिले में 2528 सक्रिय मामले।

Murari KumarSat, 17 Apr 2021 07:53 AM (IST)

मुजफ्फरपुर, जागरण संवाददाता। कोरोना की दूसरी लहर में अप्रैल में शुक्रवार को नए संक्रमितों की संख्या सर्वाधिक 554 रही। वहीं, तीन ने जिला मुख्यालय में तो एक ने इलाज के दौरान पटना मेें दम तोड़ दिया। इसके साथ ही 58 लोगों को स्वस्थ होने के बाद डिस्चार्ज कर दिया गया। 

चिह्नित दुकानों पर रेमडेसिविर इंजेक्शन नहीं, भटक रहे स्वजन

कोरोना के मरीजों के लिए उपयुक्त रेमडेसिविर इंजेक्शन बाजार में उपलब्ध नहीं है। इससे निजी अस्पताल या घर पर इलाज करा रहे लोगों की परेशानी बढ़ती जा रही है। उनके स्वजन इंजेक्शन के लिए इधर-उधर भटक रहे हैैं। पटना में स्वजन का इलाज करा रहे बैरिया के मुकेश ने बताया कि रेमडेसिविर इंजेक्शन के लिए वह सरकार की ओर से चिह्नित चारों दुकानों पर गए, लेकिन नहीं मिला। सिविल सर्जन डॉ.एसके चौधरी ने बताया कि उनको दवा की किल्लत की जानकारी नहीं है। ड्रग इंस्पेक्टर से इसकी जानकारी लेंगे। विभागीय स्तर पर पहल कर दवा की आपूर्ति की जाएगी। 

संक्रमित मरीजों की बढ़ रही रफ्तार 

जिला प्रशासन की रिपोर्ट के अनुसार 4579 संदिग्धों की जांच कराई गई थी। इसमें अब तक सबसे अधिक एक दिन में 554 नए पॉजिटिव मरीज पाए गए। इसके साथ जिले में 2528 कोरोना के सक्रिय मामले हैं। वहीं, 58 लोगों को स्वस्थ होने के बाद डिस्चार्ज कर दिया गया। 

रेलवे जंक्शन पर 42 यात्री मिले संक्रमित 

रेलवे जंक्शन पर कोरोना जांच के दौरान 42 यात्री संक्रमित मिले। इनमें अधिकतर महाराष्ट्र, दिल्ली, अमृतसर से आए थे। पॉजिटिव मिले यात्रियों को स्वास्थ्य कर्मियों ने जांच के बाद एक सप्ताह की दवा देकर होम क्वारंटाइन की सलाह दी। सुरक्षा व्यवस्था की कमी से जांच में अफरातफरी का माहौल रहा। 

सिविल कोर्ट में जांच में आठ लोग मिले पॉजिटिव

कोर्ट परिसर स्थित जिला विधिक सेवा प्राधिकार के कार्यालय में सदर अस्पताल की टीम ने कोरोना जांच के लिए शिविर लगाया। इस दौरान सिविल कोर्ट में दो न्यायिक अधिकारी समेत आधा दर्जन कर्मचारी पॉजिटिव पाए गए। संक्रमित मिले सभी लोगों को होम आइसोलेशन में भेजा गया। वहीं, बीते दिनों से एक न्यायिक अधिकारी व आठ कर्मचारी संक्रमित मिले थे। 

लगातार बढ़ रहा कोरोना से मौत का आंकड़ा

जिले में कोरोना पॉजिटिव मरीजों की मौत का सिलसिला लगातार जारी है। एसकेएमसीएच में भर्ती दो और माड़ीपुर स्थित एक निजी अस्पताल में एक संक्रमित ने दम तोड़ दिया। वहीं पटना में इलाजरत जिले के ब्रह्मïपुरा के एक व्यक्ति की मौत होने की चर्चा रही। एसकेएमसीएच अधीक्षक डॉ. बीएस झा ने बताया कि शुक्रवार सुबह दोनों मरीजों की मौत हो गई। वे तीन दिनों से अस्पताल में भर्ती थे। उनकी स्थिति गंभीर बनी थी। उधर, माड़ीपुर स्थित वैशाली कोविड केयर के संचालक डॉ.बी.मोहन ने बताया कि 60 वर्षीय वृद्ध की मौत हो गई है। कोरोना संक्रमण के लगातार बढऩे पर जिला प्रशासन ने एमआइटी हॉस्टल को खाली करा दिया हैैं। वहीं आइटी मेमोरियल और जूरन छपरा स्थित   अशोका हॉस्पिटल में 50-50 बेड मरीजों के लिए रखे गए हैैं। इधर ब्रह्मïपुरा स्थित प्रसाद हॉस्पिटल में 12 नए मरीज भर्ती किए गए और छह को डिस्चार्ज किया गया। चार की स्थिति गंभीर बनी है। दो मरीजों की नाजुक स्थिति होने पर पटना रेफर किया गया। अस्पताल के प्रबंधक अमर कुमार ने बताया कि 50 बेड की कोविड मरीजों के लिए व्यवस्था की गई है। सरकारी से लेकर निजी अस्पताल तक मरीज पहुंच रहे हंै। 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों से जुड़ी प्रमुख जानकारियों और आंकड़ों के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.