top menutop menutop menu

मोची टोला में दो पक्षों के बीच मारपीट, पांच जख्मी

मोची टोला में दो पक्षों के बीच मारपीट, पांच जख्मी
Publish Date:Wed, 05 Aug 2020 07:21 PM (IST) Author: Jagran

मुंगेर । तारापुर बाजार के मोची टोला में दो पक्षों के बीच हुई कहासूनी देखते ही देखते मारपीट में बदल गई। जिसमें दो दोनों पक्षों से पांच लोग जख्मी हो गए। प्रथम पक्ष के राजा दास को चाकू लगी। जिसे गंभीर अवस्था में बेहतर इलाज के लिए भागलपुर रेफर किया गया। वहीं, शेष सभी जख्मी का इलाज अनुमंडल अस्पताल में किया जा रहा है। दोनों पक्षों ने तारापुर थाना में लिखित शिकायत दर्ज कराई है। पुलिस अवर निरीक्षक मृत्युंजय कुमार को दोनों मामले की जांच का जिम्मा सौंपा गया है। मारपीट की घटना थाना की चाहरदीवारी के बगल में घटी। मोची टोला के राजा दास ने शिकायत दर्ज कराते हुए कहा है कि मंगलवार की रात नौ बजे लगभग उनके नाना नानी ठेला पर बैठकर खाना खा रहे थे। इतने में उन पर पानी का छींटा पड़ने लगा। जब ऊपर की ओर देखें तो शंकर दास ऊपर से पेशाब कर रहा था। जब मेरे नाना नानी ने कहा कि नीचे आकर पेशाब करना चाहिए, हम लोग नीचे बैठे हैं , तो शंकर दास ने कहा कि हम अपने छत पर से पेशाब कर रहे हैं, ज्यादा बोलोगे तो छुरा घोंप देंगे। बात बढ़ते देखकर समझाने आए तो मदन दास, रामदास, मनोज दास, संजय दास, बुचो दास, कारू दास, गुड़िया देवी, शोभा देवी, राजा दास, पूजा देवी अपने हाथ में छुरा लाठी डंडा लेकर आया और जबरन घर पर चढ़कर मारपीट करने लगा। संजय दास ने चंदन दास पर जान मारने की नीयत से छुरा से वार कर दिया, जो खून से लथपथ होकर गिर पड़ा। जब शंभू दास दोनों को बचाने के लिए आए तो सभी ने मिलकर उन पर ही प्रहार कर दिया। गला दबाकर हत्या करने का प्रयास किया और उनके गले से चांदी की चेन, मोबाइल छीन लिया। बुचो दास ने जान मारने की नीयत से मेरे पेट में छुरा घोंप दिया जिससे मैं गिर गया। दूसरे पक्ष की ओर से किशोर दास ने कहा कि उसके मामा छत पर से थूक फेंक रहे थे और विपक्षी ने झूठा आरोप लगा कर कहने लगा कि तुमने उपर से पेशाब किया है और गाली-गलौज करने लगा । जब समझाने आए तो राजा दास, बेबी देवी, सोफल दास, प्रदीप दास, केसरी देवी, खुशबू देवी आदि ने लोहे का रड एवं लाठी हमलोगों की पिटाई कर दी। प्रथम पक्ष की ओर से राजा दास, भीम दास, चंदन कुमार जबकि द्वितीय पक्ष से संजय दास एवं किशोर दास जख्मी होकर अनुमंडल अस्पताल इलाज कराने के लिए गए। जहां प्रथम पक्ष से राजा दास को पेट में छुरा लगने के कारण बेहतर इलाज के लिए भागलपुर कर दिया गया। फिलहाल मारपीट की घटना में किसी पक्ष से किसी आरोपित की गिरफ्तारी नहीं की गई है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.