आंधी-बारिश ने बढ़ा दी गरीब मजदूरों की मुश्किलें

मधुबनी। विगत दो दिनों से लगातार हो रही बारिश और आंधी के कारण जनजीवन थम सा गया है। लोग

JagranPublish:Fri, 28 May 2021 11:11 PM (IST) Updated:Fri, 28 May 2021 11:11 PM (IST)
आंधी-बारिश ने बढ़ा दी गरीब मजदूरों की मुश्किलें
आंधी-बारिश ने बढ़ा दी गरीब मजदूरों की मुश्किलें

मधुबनी। विगत दो दिनों से लगातार हो रही बारिश और आंधी के कारण जनजीवन थम सा गया है। लोगों को विविध स्तरों पर मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है। सबसे अधिक गरीब मजदूरों के समक्ष मुश्किल हालात पैदा हो गया है। विगत दो दिनों से लगातार हो रही बारिश के कारण किसानों में मायूसी छा गई है। एक तरफ जहां आम, लीची एवं मूंग के फसल को नुकसान पहुंचा है, तो दूसरी खरीफ फसल धान के बीज की बुआई भी प्रभावित हो गई है। किसान खेतों की जुताई कर धान के बीज की बुआई प्रारंभ करने की जुगत में जुटे ही थे कि मौसम ने दगा दे दिया। अब 15 से 20 दिन तक किसानों को धान के बीज की बुआई के लिए इंतजार करना होगा, जिस कारण फसल की उपज प्रभावित होने की आशंका से किसानों के माथे पर चिता लकीरें खिचने लगी है। तेज आंधी बारिश के कारण विगत दो दिनों से बिजली गुल है, जिस कारण लोगों को विविध स्तरों पर परेशानी उठानी पड़ रही है। बिजली गुल रहने से कई घरों में पानी का संकट उत्पन्न हो गया है, तो बच्चे का पठन पाठन भी प्रभावित हो रहा है। वहींए बिजली आधारित लघु उद्योग भी बंद हो गया है। जगह जगह जलजमाव से परेशानी लगातार हो रही बारिश के कारण अनुमंडल मुख्यालय समेत ग्रामीण क्षेत्रों में सड़कों पर जलजमाव के कारण भी लोग परेशान हैं। जयनगर नगर पंचायत के वार्ड नं तीन, चार, छह, सात, दस समेत अन्य वार्डो में जलजमाव हो जाने के कारण लोगों के लिए आवागमन मुसीबत बना हुआ है। वहीं, ग्रामीण क्षेत्रों में तो स्थिति नारकिय बनी हुई है। कई दिनों से हो रही बारिश के कारण सभी स्तरों पर काम काज ठप है, जिस कारण मजदूरों को कोई काम नहीं मिल रहा है। जिस कारण उनके समक्ष अपने परिवार का भरण पोषण करना मुश्किल हो रहा है। महाजन के पास उधार के लिए पहुंचने लगे हैं। विगत दो दिनों से बह रही तेज आंधी के कारण कई जगहों पर पेड़ उखड़ कर गिर पड़े हैं। वहीं, कई सूखे पेड़ भी लोगों के घरों पर गिरने की सूचना है।