आर्थिक गणना से विकास को मिलेगी गति

मधेपुरा। प्रखंड मुख्यालय स्थित सभागार में सीएससी एवं वीएलई का एक दिवसीय उन्मुखीकरण कार्यशाला का आयोजन किया गया। कार्यशाला को संबोधित करते हुए सीएससी जिला प्रबंधक संजीव कुमार ने बताया कि देश में पहली बार एप के माध्यम से पेपर लेस आर्थिक जनगणना की जाएगी। सातवीं आर्थिक गणना के लिए उन्होंने प्रखंड के सभी पंचायतों में कार्यरत सीएससी संचालक को इस बारे में विस्तार से बताया।

उन्होंने बताया कि आर्थिक गणना मोबाइल एप के माध्यम से सीएससी, ई-गवर्नेंस सर्विसेज इंडिया लिमिटेड के द्वारा होगा। यह गणना पूरी तरह पेपर लेस होने के साथ जीओ टैगिग होगी। उन्होंने गणना के लिए संगठित एवं असंगठित क्षेत्रों के आर्थिक आंकड़े जुटाने को कहा। उन्होंने बताया कि यह आंकड़ों प्रदेश के साथ-साथ राष्ट्र के विकास में सहायक सिद्ध होता है। इससे नीति निर्धारण एवं नियोजन का आधार बनाकर बेहतर विकास की योजनाओं को लागू की जाती है। आर्थिक गणना के दौरान ली गई जानकारी को उन्होंने गोपनीय रखे जाने की बात कही। मौके पर रघुराज, रंधीर कुमार, अजय कुमार, वसीम रजा, शंकर कुमार, भगवान मंडल, मु.लुकमान, भवन कुमार, मु.सलीम, शमशेर आलम, पवन कुमार, जीतेन कुमार, दीपक कुमार, मु,नेजामुद्दीन, कुमार अजय, चन्दन कुमार साह, शुभम शशि, शंकर कुमार, ललन कुमार, संतोष कुमार, निखिल कुमार, कमलेश कुमार सहित अन्य मौजूद थे।

1952 से 2019 तक इन राज्यों के विधानसभा चुनाव की हर जानकारी के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.