युवा ही राष्ट्र का आधार : डा. राजकुमार सिंह

संवाद सूत्र सिंहेश्वर (मधेपुरा) युवा ही समाज व राष्ट्र के आधार है। युवाओं पर ही परिवार

JagranTue, 07 Dec 2021 06:11 PM (IST)
युवा ही राष्ट्र का आधार : डा. राजकुमार सिंह

संवाद सूत्र, सिंहेश्वर (मधेपुरा) : युवा ही समाज व राष्ट्र के आधार है। युवाओं पर ही परिवार, समाज व राष्ट्र के समग्र विकास की जिम्मेदारी है। युवाओं को आगे बढ़कर समाज, राष्ट्र के निर्माण व विकास में सक्रिय भूमिका निभानी चाहिए। उक्त बातें सामाजिक विज्ञान संकायाध्यक्ष डा. राजकुमार सिंह ने कही। वह मंगलवार को टीपी कालेज में सात दिवसीय विशेष शिविर के समापन समारोह में रूप में बोल रहे थे।

उन्होंने कहा कि यह ऐतिहासिक सत्य है कि कोई भी समाज व राष्ट्र युवाओं के दम पर ही प्रगति करता है। आज भारत में युवाओं की संख्या अधिक है। इसलिए भारत के विकास की असीम संभावनाएं हैं। जिस देश में युवाओं की संख्या कम हो रही है, वे देश चितित हैं। कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए प्रधानाचार्य डा. केपी यादव ने कहा कि राष्ट्रसेवा सेवा ही सबसे बड़ा धर्म है। इसलिए हमारी कामना होनी चाहिए कि हमें जन्मों-जन्मों तक राष्ट्रसेवा का सुअवसर मिले। कार्यक्रम का संचालन सीएम साइंस कालेज के संजय कुमार ने किया। धन्यवाद ज्ञापन गणित विभागाध्यक्ष डा. एमएस पाठक ने की। कार्यक्रम की शुरूआत स्वामी विवेकानंद, महात्मा गांधी व कीर्ति नारायण मंडल के चित्र पर पुष्पांजलि के साथ हुई। अतिथियों का अंगवस्त्रम व सामाजिक न्याय : अंबेडकर-विचार और आधुनिक संदर्भ पुस्तक भेंट कर सम्मानित किया गया। प्रांगण रंगमंच की आरती आनंद ने स्वागत गीत प्रस्तुत किया। इस अवसर पर डा. उपेंद्र प्रसाद यादव, डा. अमरेंद्र कुमार, सीनेटर रंजन कुमार, काउंसिल मेंबर माधव कुमार, शोधार्थी द्वय सारंग तनय व सौरभ कुमार चौहान, बीसीए के विभागाध्यक्ष डा. केके भारती, बायोटेक के प्रणव कुमार प्रियदर्शी, गौरव कुमार सिंह, सूरज कुमार, प्रिस कुमार, नेहा प्रवीण, कशिश नाज, अमन आनंद, अटल कुमार, नमन कुमार, आशीष कुमार, सोनू कुमार, रंजन कुमार, अभिमन्यु कुमार, प्रिस कुमार, रितेश कुमार, शंकर कुमार, प्रवीण कुमार, गोपाल कुमार, राहुल कुमार, राजा बाबू, हिमांशु कुमार, आशीष कुमार, नूतन कुमारी, दिलखुश कुमार, इन्दजीत कुमार, नीतीश कुमार, विकाश कुमार, राकेश कुमार, आरती कुमारी, आशीष कुमार, प्रिस कुमार, समीर कुमार, अंजलि कुमारी, पूजा कुमारी, माधवी कुमारी, ब्यूटी कुमारी, राहुल कुमार, विक्रम कुमार, भारती कुमारी, आकृति रंजन, नेहा भारती, ममता, शिवम कुमार, छोटू कुमार, सक्षम कुमार, सौरभ कुमार, आदित्य कुमार, माधव कुमार, सुधांशु सत्यम, प्रिस राज आदि उपस्थित थे।

व्यक्तित्व विकास में है एनएसएस की भूमिका मानविकी संकायाध्यक्ष डा. उषा सिन्हा ने कहा कि युवाओं के व्यक्तित्व विकास एवं चरित्र-निर्माण में एनएसएस महती भूमिका है। यह युवाओं को समाज व राष्ट्र की सेवा के लिए प्रेरित करता है। उन्होंने कहा कि युवा उर्जा के भंडार है। हमें युवाओं की उर्जा को सकारात्मक दिशा देने की जरूरत है। युवाओं की उर्जा राष्ट्र-निर्माण में लगेगी, तो राष्ट्र का विकास कोई नहीं रोक सकेगा। वार्ड पार्षद अहिल्या देवी ने स्वयंसेवकों से कहा कि वे अपने जीवन में सफल हो और अपने परिवार, समाज व राष्ट्र का नाम रोशन करें।

दूसरों के लिए जीने की प्रेरणा देता है एनएसएस एनएसएस समन्वयक डा. अभय कुमार ने कहा कि एनएसएस की शुरूआत महात्मा गांधी के सपनों को साकार करने के उद्देश्य से की गई है। यह युवाओं में देशप्रेम व विश्वबंधुत्व की सीख देता है। एनएसएस ने बाढ़, भूकंप व कोरोना आदि आपदाओं के समय सेवा की मिसाल कायम की है।

सिडिकेट सदस्य डा. जवाहर पासवान ने कहा कि युवा पठन-पाठन के साथ-साथ सामाजिक सरोकारों से जुड़ें और समाज के अंतिम व्यक्ति के हित में कार्य करें। कार्यक्रम पदाधिकारी डा. सुधांशु शेखर ने शिविर का प्रतिवेदन प्रस्तुत किया। उन्होंने बताया कि शिविर में एड्स नियंत्रण, सेहत के सूत्र, संविधान की प्रस्तावना, राष्ट्र-निर्माण में डा. अंबेडकर का योगदान आदि विषयों पर परिचर्चा हुई। दो दिन नि:शुल्क चिकित्सीय परामर्श दिया गया। तीन दिन अलग-अलग विषयों पर प्रश्नोत्तरी प्रतियोगिता आयोजित की गई।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.