शहर की सुविधाओं को लेकर मानवाधिकार संगठन ने ईओ को सौंपा ज्ञापन

संवाद सूत्र मधेपुरा शहर की मूलभूत सुविधाओं को लेकर राष्ट्रीय मानवाधिकार संगठन के सद

JagranPublish:Mon, 29 Nov 2021 05:26 PM (IST) Updated:Mon, 29 Nov 2021 05:26 PM (IST)
शहर की सुविधाओं को लेकर मानवाधिकार संगठन ने ईओ को सौंपा ज्ञापन
शहर की सुविधाओं को लेकर मानवाधिकार संगठन ने ईओ को सौंपा ज्ञापन

संवाद सूत्र, मधेपुरा : शहर की मूलभूत सुविधाओं को लेकर राष्ट्रीय मानवाधिकार संगठन के सदस्य ने सोमवार को नगर परिषद के ईओ को ज्ञापन सौंपा।

जिलाध्यक्ष श्यामल किशोर यादव की अध्यक्षता में टीम के सदस्यों ने ईओ को शहर में शौचालय व यूरिनल की जरूरत पर विस्तार से चर्चा की। अध्यक्ष ने कहा कि शहर की आबादी 75 हजार से ज्यादा है, लेकिन शहर में आज भी मूलभूत सुविधाओं का अभाव है। शौचालय व युरिनल जैसी सुविधा नहीं रहने के कारण आमलोगों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। अधिवक्ता कौशल किशोर सिनहा, सुचिद्र कुमार सिंह ने कहा कि नप का दायित्व है कि शहर के सभी मुख्य चौक-चौराहे पर सुलभ शौचालय हो। उन्होंने कहा कि सभी शौचालय पेय एंड यूज होनी चाहिए ताकि सभी का बेहतर प्रबंधन हो सके। महिला सेल की उपाध्यक्ष प्रो. तंद्रा शरण ने कहा कि शहर की पहचान उसकी स्वच्छता के साथ मूलभूत सुविधा से होती है। हैरानी की बात है कि अभी तक इस मामले में नप ने कभी गंभीर प्रयास नहीं किया। शिक्षाविद विनय कुमार झा व धमेंद्र कुमार सिंह ने कहा कि बेहतर पेयजल, शौचालय, यूरिनल समेत कई मुद्दे हैं। संगठन की बातों पर विचार विमर्श के उपरांत ईओ अजय कुमार ने कहा कि हमलोग पंचायत चुनाव के बाद इस तरह के कार्य को वरीयता के आधार पर करेंगे। ताकि शहर के लोगों को इस तरह की दिक्कत न हो। मौके पर नीरज कुमार, अमित कुमार, रनिग कुमार समेत अन्य लोग मौजूद थे।