ठंड भी रोक नहीं पाई वोटरों के कदम

संवाद सूत्र उदाकिशुनगंज (मधेपुरा) सुबह में कुहासे से घिरा गांव ऊपर से ठंड हल्की ह

JagranMon, 29 Nov 2021 06:31 PM (IST)
ठंड भी रोक नहीं पाई वोटरों के कदम

संवाद सूत्र, उदाकिशुनगंज (मधेपुरा) : सुबह में कुहासे से घिरा गांव, ऊपर से ठंड, हल्की हवा। फिर भी विकास की रोशनी की उम्मीद लिए लोग अपने-अपने घरों से बाहर निकल पड़े। गांव की सरकार चुनने के लिए लोग काफी तत्पर दिखे। लोग मतदान शुरू होने से पहले बूथ पर पहुंच गए। कुछ लोग इसलिए मतदान केंद्र पर पहले पहुंचे कि उसे वोट देकर जल्दी काम पर भी जाना है। घर की महिलाएं चूल्हा-चौकी करने से पहले ही बूथ पर पहुंचे। पहले बूथ पर आने वाली महिलाओं का कहना था कि बेहतर सरकार चुनने से वह चूक न जाए। इसलिए पहले मतदान को पहुंची हैं। वोट देने के बाद वह घर जाकर जलपान तैयार करेंगी। यूं कहें कि गांव की सरकार को चुनने के लिए मतदाताओं में खासा उत्साह था। सुबह से ही मतदान केंद्रों पर मतदाताओं की लंबी कतार लगी रही। जैसे-जैसे दिन चढ़ता गया। वैसे ही मतदाताओं की लंबी लाइन लगती रही। सोमवार की सुबह हल्की ठंड और दोपहर तक का मौसम सुहाना रहा। उसके बाद फिर से ठंड हवा के बीच वोटरों की लंबी लाइन लगी रही। दोपहर बाद मौसम के बदलते मिजाज से वोटरों की परेशानी कम हुई। मौसम प्रतिकूल होने के बावजूद लोग दिन भर वोट डालने के लिए मतदाता मतदान केंद्रों पर डटे रहे। सोमवार को वोटिग शुरू होने से पहले ही वोटरों की लाइन लग गई थी। कई जगहों पर प्रशासनिक अव्यवस्था भी थी। सुबह से ही मतदाता अपने हाथों में पहचान पत्र लिए अपना रूख मतदान केंद्र की ओर कर दिए। महिलाओं की टोली सजधज कर चुनावी मैदान में उतरे प्रत्याशियों के भाग्य ईवीएम में कैद करने घरों से निकल पड़ी। कई महिला वोटर खाना बनाने से पहले ही वोट गिराने बूथ पर पहुंच गई थी। वैकल्पिक कोई पहचान पत्र नहीं रहने की वजह से कई मतदाता वोट गिराने से वंचित रह गए। मतदान केंद्र संख्या 150 पिपरा करौती पर सुबह 07:30 बजे तक 26 वोट पड़े। वहीं नयानगर पंचायत के डहरा तिवारी टोला मतदान केंद्र संख्या 161 पर 50 और 162 पर 66 मत सुबह 08:26 बजे तक पड़े। जबकि बूथ संख्या 157 पर 63 और बूथ संख्या 158 पर 77 वोट सुबह 08:57 बजे तक पड़ा। राजकीय बुनियादी मध्य विद्यालय केंद्र पर सुबह 9:30 बजे तक 98 वोट डाले गए। बैजनाथपुर मध्य विद्यालय केंद्र पर करीब दस बजे तक 106 मत पड़े। डोमारही मतदान केंद्र संख्या 190 और 191 पर क्रमश: 145 और 108 मत डाले गए थे। सभी बूथों पर सुरक्षा व्यवस्था के पुख्ता इंतजाम किए गए थे। वोट डालने पहुंची महिलाओं ने कहा कि इस बार खाना बनाना छोड़कर पहले मतदान करने पहुंचे हैं। पिपरा करौती गांव के रमिया देवी ने कहा की उसके साथ अन्य महिलाओं ने खाना बनाने से पहले डालने का मन बना रखी थी। वहीं रेशमी देवी कहती है कि भीड़ की वजह से सुबह जल्दी आ गए। तिवारी टोला बूथ पर मतदान करने पहुंची ओझली देवी कहती है कि गांव की सरकार चुनना है। इसलिए पहले मतदान फिर जलपान करेंगे। वहीं फुल देवी कहती है कि खाना तो बन ही जाएगा। पहले वोट गिराने की बात सोच रखी थी। इसलिए पहले वोट गिराने आ गए। कुल मिलाकर महिलाओं की सोच पहले मतदान की रही। यहीं वजह रहा कि आमूनन बूथों पर सुबह महिलाओं की लंबी कतार दिखी।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.