मुरलीगंज में परिवर्तन की हवा से दिग्गजों ने खाई शिकस्त, नहीं बचा पाई कुर्सी

संवाद सूत्र मुरलीगंज (मधेपुरा) बदलाव की इस लहर में कई दिग्गज भी अपनी कुर्सी बचाने मे असफल

JagranPublish:Mon, 29 Nov 2021 05:31 PM (IST) Updated:Mon, 29 Nov 2021 05:31 PM (IST)
मुरलीगंज में परिवर्तन की हवा से दिग्गजों ने खाई शिकस्त, नहीं बचा पाई कुर्सी
मुरलीगंज में परिवर्तन की हवा से दिग्गजों ने खाई शिकस्त, नहीं बचा पाई कुर्सी

संवाद सूत्र, मुरलीगंज (मधेपुरा) : बदलाव की इस लहर में कई दिग्गज भी अपनी कुर्सी बचाने मे असफल रहे। यद्यपि कुर्सी बचाने के लिए कई तरह के तिकड़म भी अपनाए, लेकिन परिवर्तन की हवा में किसी का कोई तिकड़म काम नहीं आया। इस बार के पंचायत चुनाव में जनता ने नए चेहरों पर विश्वास जताया है। मुरलीगंज प्रखंड की 17 पंचायत में से 16 नए चेहरे चुनाव जीतकर आए हैं। इस बदलाव की लहर में मुरलीगंज के कई दिग्गज भी पटकनी खा गए।

बता दें कि आठवे चरण के पंचायत चुनाव के दौरान हरिपुरकला, बेलो व पोखराम परमानंद पंचायत पर जिले के बड़े-बड़े नेताओं की नजर थी। इतना ही नहीं इन पंचायत के दिग्गज प्रतिनिधि चुनाव जीतने के लिए साम, दाम, दंड, भेद तक लगा चुके थे। इसके बावजूद आम जनता को अपने पक्ष में नहीं कर पाए।

बेलो पंचायत से भाजपा जिला अध्यक्ष सह मुखिया संघ के जिला अध्यक्ष स्वदेश कुमार पंचायत चुनाव हार गए। बेलो पंचायत से नवनिर्वाचित मुखिया दयानंद कुमार यादव 289 मत से विजयी हुए हैं। दयानंद कुमार यादव को 1052 मत प्राप्त हुआ है। इनके निकटतम प्रतिद्वंदी उमेश यादव को 763 मत प्राप्त हुआ है। वहीं पूर्व मुखिया स्वदेश कुमार 512 मत प्राप्त कर तीसरे स्थान पर काबिज रहे।

दूसरी ओर मुरलीगंज के अलावा जिले के विभिन्न चुनावों में गेम चेंजर कहलाने वाले पिटू यादव भी हरिपुरकला पंचायत का सीट नहीं बचा पाए। मुरलीगंज नपं चुनाव हो या जिला के अन्य किसी चुनाव में इनकी भूमिका अहम रहती थी। हरिपुरकला पंचायत से विश्वजीत कुमार उर्फ पिटू यादव की पत्नी लक्ष्मी कुमारी मुखिया चुनाव हार गई। हरिपुरकला पंचायत से मुखिया पद पर डा. आलोक कुमार 174 मत से हुए विजयी हुए हैं। डा. आलोक कुमार कुमार को कुल 2533 मत प्राप्त हुआ है। वहीं लक्ष्मी कुमारी को मात्र 2359 मत ही प्राप्त हुआ। इसके अलावा मुरलीगंज से जदयू के प्रखंड अध्यक्ष राजीव कुमार पंचायत चुनाव हारकर मुखिया की कुर्सी गवां दिए हैं। राजीव कुमार पोखराम परमानंदपुर से निवर्तमान मुखिया थे। नवनिर्वाचित मुखिया गजेंद्र यादव ने 1100 मत से राजीव कुमार को पराजित किया है। गजेंद्र यादव को कुल 2127 मत प्राप्त हुआ है। वहीं राजीव कुमार को 1027 मत प्राप्त हुआ।