ऑनलाइन दाखिल खारिज में लाएं तेजी : डीएम

ऑनलाइन दाखिल खारिज में लाएं तेजी : डीएम

किशनगंज। ऑनलाइन दाखिल खारिज में प्रगति अपेक्षाकृत संतोषजनक नहीं है। सभी अंचल में ऑनलाइन म्यू

JagranMon, 19 Apr 2021 08:36 PM (IST)

किशनगंज। ऑनलाइन दाखिल खारिज में प्रगति अपेक्षाकृत संतोषजनक नहीं है। सभी अंचल में ऑनलाइन म्यूटेशन के अधिकतर मामले कर्मचारी या अंचल निरीक्षण के लॉगइन में लंबित पड़े हुए हैं। कई मामले समय सीमा के बाद भी लंबित है। इस पर जिलाधिकारी ने असंतोष व्यक्त किया और कहा कि नियमानुसार त्वरित कार्रवाई करते हुए इस माह के अंत तक ऑनलाइन निष्पादन करें। डीसीएलआर को इसकी मॉनीटरिग का निर्देश दिया गया।

परीमर्जन पोर्टल पर खेसरा सुधार व डाटा एंट्री को लेकर खराब प्रदर्शन वाले अंचल समेत सभी सीओ संभावित सुधार वाले मामलो को लंबित नहीं रखने और नियमानुसार कार्रवाई करने या वरीय पदाधिकारियों को अग्रसारित करने का निर्देश दिया गया। कंपाईलेशन शीट पूर्ण करने का निर्देश देते हुए डीएम ने कहा कि ऑनलाइन व ऑफलाइन प्रतिवेदन में अंतर परिलक्षित हो रही है, इसमें सुधार की आवश्यकता है। खराब प्रदर्शन वाले अंचल डीसीएलआर से समन्वय कर ऑनलाइन अपलोड व डाटा इंट्री करते हुए प्रतिवेदन में सुधार करना सुनिश्चित कराएं।

शुक्रवार को जिलाधिकारी डॉ. आदित्य प्रकाश के द्वारा वीडियो कांफ्रेंसिग के मध्यम से सभी सीओ के स्तर से किए जाने वाले कार्यों, आपदा प्रबंधन एवं नीलाम पत्र से संबंधित कार्यों की समीक्षा बैठक की गई। जिसमें ऑनलाइन दाखिल खारिज, भू लगान वसूली, सेस, मांग वसूली, अभियान बसेरा, बासगीत पर्चा वितरण, एलपीसी निर्गत करने की अद्यतन स्थिति, गैर मजरूआ आम भूमि व गैर मजरूआ मालिक भूमि बंदोबस्ती, लोक भूमि अतिक्रमण, जल संचयन का अतिक्रमण, भू हदबंदी, भू-दान आदि पर विस्तृत समीक्षा की गई।

राजस्व कर्मियों के स्तर पर दाखिल खारिज निष्पादन के मामलो पर गंभीरतापूर्वक कार्रवाई नहीं होने पर जिलाधिकारी ने निर्देश दिया कि खराब प्रदर्शन वाले कर्मियों से स्पष्टीकरण करें अन्यथा आवश्यकतानुसार विभागीय कार्रवाई के लिए प्रस्ताव दें। अंचलाधिकारी को निर्देश दिया कि विशेष शिविर के माध्यम से वासगीत पर्चा का वितरण करने हेतु अन्य प्रक्रिया यथा करेक्शन स्लिप निर्गत करें, भूमि का सीमांकन आदि शीघ्र पूर्ण कर सूचित करें। विद्यालय व अन्य लोक भूमि पर अतिक्रमण नहीं हो इसे सुनिश्चित कराएं। रेतुआ नदी पर तटबंध निर्माण में अधिग्रहित होने वाले भूमि का सत्यापन कराते हुए मौजावार अभिलेख उपलब्ध कराने, लैंड बैंक व अन्य भू अर्जन के कार्यों में प्रगति लाने का निर्देश दिया गया।

इसी तरह आपदा आपदा प्रबंधन की समीक्षा में अनुग्रह अनुदान, अग्निकांड, बज्रपात, मकान क्षति संबंधित अभिलेख तैयार कर त्वरित निष्पादन हेतु प्रस्ताव जिला आपदा को भेजने हेतु निर्देश सभी सीओ और एसडीओ को दिया गया। उक्त बैठक में एडीएम ब्रजेश कुमार, एसडीएम शाहनवाज अहमद नियाजी, वरीय उप समाहर्ता राहुल वर्मन, डीसीएलआर आफाक आलम, जिला नीलाम पत्र पदाधिकारी रंजीत कुमार आदि उपस्थित रहे।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों से जुड़ी प्रमुख जानकारियों और आंकड़ों के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.