सन्हौली दुर्गा मंदिर समिति की हुई बैठक, लगाए जाएंगे सीसीटीवी कैमरे

खगड़िया । सन्हौली दुर्गा स्थान से भी खगड़िया जिले की पहचान है। यह सिद्धपीठ है। दो सौ वर्ष पुराना

JagranSun, 26 Sep 2021 08:45 PM (IST)
सन्हौली दुर्गा मंदिर समिति की हुई बैठक, लगाए जाएंगे सीसीटीवी कैमरे

खगड़िया । सन्हौली दुर्गा स्थान से भी खगड़िया जिले की पहचान है। यह सिद्धपीठ है। दो सौ वर्ष पुराना सन्हौली दुर्गा स्थान है। शुरू में यह मंदिर खपरैल का हुआ करता था। कालांतर में तत्कालीन विधायक केदारनाथ नारायण सिंह के सहयोग से धीरे- धीरे मंदिर का विकास हुआ। बाद में मंदिर की देखरेख को लेकर ट्रस्ट बनाया गया। आज ट्रस्ट मंदिर का संचालन करता है। यहां खगड़िया समेत दूसरे जिले के लोग भी मां की पूजा-अर्चना करने आते हैं। जो भी भक्त सच्चे दिल से जो कुछ मांगते हैं उनकी मनोकामना जरूर पूरी होती है। वर्तमान में सन्हौली दुर्गा स्थान में पांच करोड़ की लागत से धर्मशाला सह विवाह भवन का निर्माण कराया जा रहा है। जिसकी नींव बीते 2020 में निवर्तमान जिला परिषद सदस्य प्रियदर्शना सिंह और शिक्षक नेता मनीष सिंह के द्वारा रखा गया। मनीष सिंह ने बताया कि लोगों के द्वारा दिए जाने वाले चंदे और पूजा कमेटी से मिली धनराशि से मंदिर परिसर में भव्य चार मंजिला धर्मशाला सह विवाह भवन का निर्माण कराया जा रहा है। उन्होंने कहा कि हमारे परिवार के स्मृतिशेष हो चुके दुर्गास्थान ट्रस्ट के सभी सदस्यों के नाम से प्रत्येक व्यक्ति एक लाख 11 हजार एक सौ 11 रुपये चंदा देने का हमारा संकल्प है। माता ने अगर शक्ति दी तो यह कार्य जरूर पूरा होगा। फिलहाल दुर्गा स्थान ट्रस्ट के पूर्व अध्यक्ष केदार नारायण सिंह, क्रांति कुमार सिंह और स्मृतिशेष केदार नारायण सिंह की धर्मपत्नी के नाम से तीन लाख 33 हजार तीन सौ 33 रुपये का दान पूजा कमेटी को किया जा चुका है। पूजा कमेटी द्वारा 10 लाख रुपये तत्काल दिया गया है। जिससे भवन का बेस तैयार किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि धर्मशाला सह विवाह भवन का निर्माण लोगों के सहयोग से 2024 में पूरा करने का लक्ष्य रखा गया है। उन्होंने बताया कि 25 हजार रुपये से अधिक दान करने वालों के नाम शिलापट पर अंकित किये जाएंगे। सन्हौली दुर्गा स्थान को दिया गया स्वर्ण मंदिर का रूप वर्ष 2019 में मंदिर का कायाकल्प कर दक्षिण भारत के मंदिरों की तरह बड़े- बड़े स्तंभ और स्थाई तोरण द्वार बनाए गए हैं। स्वर्ण मंदिर का रूप दिया गया है। मंदिर के बाहरी आवरण और तोरण द्वार को सुनहरे रंगों से रंगा गया है। जिससे मंदिर के भव्य स्वरूप में चार चांद लग गए हैं। मंदिर के हर पाये में बेहतरीन नक्काशी की गई है। जिससे मंदिर की शोभा दोगुनी हो गई है। नवरात्र पूजन को लेकर बैठक आयोजित रविवार को शक्तिपीठ के नाम से प्रसिद्ध सन्हौली दुर्गा स्थान पूजा समिति की बैठक नवरात्र की तैयारी को लेकर आयोजित की गई। जिसमें नवरात्र पूजा को सफल बनाने को लेकर रूपरेखा तैयार की गई। सात अक्टूबर से शुरू शारदीय नवरात्र में प्रत्येक वर्ष की तरह प्रतिदिन महाआरती होगी। प्रत्येक दिन माता को अलग- अलग भोग लगाया जाएगा। बैठक में मंदिर की साज-सज्जा पर भी चर्चा हुई। पूजा अर्चना को आने वाले श्रद्धालुओं को मंदिर की तरफ से गंगाजल, फूल, अगरबत्ती आदि दिया जाएगा। श्रद्धालुओं को कठिनाई नहीं हो इसको लेकर स्वयंसेवक मौजूद रहेंगे। आधे दर्जन से अधिक सीसीटीवी कैमरे लगाए जाएंगे। बैठक में अनुपम कुमार सिंह, हर्षवर्धन कुमार सिंह, उत्कर्ष कुमार सिंह, विनित विक्रम, मनोज कुमार सिंह आदि मौजूद थे।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.