top menutop menutop menu

सुरक्षित यात्रा के लिए रेलवे तैयार करेगा पोस्ट कोविड कोच

कटिहार। रेल यात्रियों को कोरोना सहित किसी भी तरह के संक्रमण से बचाव एवं सुरक्षित यात्रा के लिए रेलवे पोस्ट कोविड कोच तैयार करेगा। ट्रेन की बोगी को समय-समय पर विभिन्न कोच फैक्ट्री एवं रेलवे वर्कशॉप में भेजे जाने पर पोस्ट कोविड कोच के अनुरूप परिवर्तित किया जाएगा। कटिहार रेलमंडल होकर परिचालित होने वाली ट्रेनों के कुछ बोगियों को जल्द ही ओवरवाइलिग के लिए भेजा जाएगा। इन बोगी को पोस्ट कोविड कोच के अनुरूप डिजाइन करने को प्रस्तावित किया जाएगा। इस काम में अभी लंबा समय लग सकता है। लेकिन आने वाले समय में रेलयात्री फ्री हैंड सुविधा एवं प्लाज्मा वायु शुद्धिकरण लगे रेलवे कोच में सुरक्षित यात्रा कर सकेंगे। प्रायोगिक तौर पर इसकी शुरूआत कपूरथला स्थित रेलवे कोच फैक्ट्री में शुरू कर दी गई है। सभी रेलमंडल को पोस्ट कोविड कोच की सुविधा देने की योजना तैयार की गई है। ट्रेन कोच को प्लाज्मा वायु शुद्धिकरण उपकरण एवं टाइटेनियम डाईआक्साइड कोटिग जैसी सुविधा के अनुरूप डिजाइन किया जाएगा।

इस तरह का होगा कोच का डिजाइन

वायरस एवं बैक्टीरिया जनित संक्रमण से बचाव को लेकर रेलवे कोच को अत्याधुनिक रूप से डिजायन किया जाएगा। बोगी के अंदर यात्रियों को हैंड फ्री सुविधा दी जाएगी। बिना हाथ लगाए शौचालय में पैरों से नल चलाने एवं साबुन वितरण यंत्र लगाया जाएगा। फ्लश बाल्व लगा रहने से ट्रेन के शौचालय में पानी देने के लिए हाथ का उपयोग नहीं करना होगा। एसी कोच के एसी डक्ट में प्लाज्मा वायु शुद्धिकरण उपकरण उपकरण लगाया जाएगा। आॉयन की सघनता को अनुरूप सौ से 6000 ऑयन प्रति सेमी तक सुधार करेगा। बोगी में तांबा की परत चढ़ी हैंडल तथा कुंडी लगाई जाएगी। तांबा के संपर्क में वायरस के संपर्क में आते ही ऑयन पैथोजन को विखंडित कर देता है। इससे वायरस प्रभावहीन हो जाता है। पोस्ट कोविड कोच में फर्श पर टाइटेनियम डाईऑक्साइड की परत चढ़ी होगी। यह परत वायरस, बैक्टेरिया एवं फंगस के विकास को रोकने का काम करने के साथ ही पर्यावरण के अनुकुल भी होगा। इसकी कोटिग वॉश बेसिन, सीट एवं बर्थ पर भी की जाएगी। इस परत का असर एक वर्ष तक बना रहेगा।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.