भवन के अभाव में पुस्तकालय चल रहा है बलरामपुर थाना

संवाद सूत्र बलरामपुर (कटिहार)। बलरामपुर में आम जनता की सुरक्षा एवं कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए पदस्थापित पुलिसकर्मी खुद ही असुरक्षित है। स्थापनाकाल से ही बलरामपुर थाना को अपना भवन नसीब नहीं है।

JagranTue, 30 Nov 2021 11:46 PM (IST)
भवन के अभाव में पुस्तकालय चल रहा है बलरामपुर थाना

संवाद सूत्र, बलरामपुर (कटिहार)। बलरामपुर में आम जनता की सुरक्षा एवं कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए पदस्थापित पुलिसकर्मी खुद ही असुरक्षित है। स्थापनाकाल से ही बलरामपुर थाना को अपना भवन नसीब नहीं है।

पिछले कई वर्षों से बलरामपुर थाना बीएल नेशनल क्लब के पुस्तकालय भवन में चल रहा है। थाना भवन के समीप ही पुलिसकर्मियों के रहने के लिए बनाया गया बैरक जीर्ण शीर्ण अवस्था में है। मजबूरन भवन की कमी के चलते पुलिसकर्मी जान हथेली में रख खंडहरनुमा बैरक में रह रहे हैं। साथ ही पुलिस पदाधिकारियों को भी जर्जर भवन में रहना पड़ रहा है। पदस्थापित पुलिस पदाधिकारी भाड़े पर मकान लेकर रह रहे हैं, लेकिन पुलिसकर्मी बैरक में रहने को विवश हैं। क्या कहते हैं थानाध्यक्ष

बलरामपुर थानाध्यक्ष रविद्र कुमार ने बताया कि पुलिस कर्मियों को क्षतिग्रस्त बैरक में रहने की विवशता के साथ ही विषैले सांप और बिच्छुओं के खतरे का भी सामना करना पड़ रहा है। थाना परिसर के आसपास विषैले सांपों को बराबर देखा जाता है जिससे पुलिसकर्मी हमेशा सहमे रहते हैं।

कहते हैं स्थानीय लोग

बलरामपुर प्रखंड के जनप्रतिनिधियों एवं स्थानीय लोगों ने कहा कि पश्चिम बंगाल के सीमावर्ती इलाके में स्थित बलरामपुर थाना की महत्ता को देखते हुए प्रशासन द्वारा इसे माडल थाना का दर्जा देने के साथ ही थाना भवन का निर्माण कार्य अविलंब शुरू करना चाहिए। थाना भवन निर्माण के लिए भूमि अधिग्रहण की प्रक्रिया लगभग पूरी हो चुकी है। लेकिन विभाग द्वारा अब तक थाना भवन निर्माण हेतु कोई पहल नहीं की जा रही है। भाजपा नेता संजीव मिश्रा, जदयू प्रखंड अध्यक्ष कमल चंद्र दास, भाजपा प्रखंड अध्यक्ष भरत लाल दास, जदयू नेता नूर सनवर उर्फ सन्नी, अब्दुस समद उर्फ लाडला, जदयू युवा प्रखंड अध्यक्ष पंकज कुमार, देवकुमार मोदक आदि ने बलरामपुर थाना भवन के निर्माण की मांग की है।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.