स्वास्थ्यकर्मियों से की गई वैक्सीन लगाने की अपील

स्वास्थ्यकर्मियों से की गई वैक्सीन लगाने की अपील

कटिहार। कोविड.19 टीकाकरण के प्रथम चरण में पांचवे दिन गुरुवार को जिले के सदर अस्पताल

Publish Date:Thu, 21 Jan 2021 09:05 PM (IST) Author: Jagran

कटिहार। कोविड.19 टीकाकरण के प्रथम चरण में पांचवे दिन गुरुवार को जिले के सदर अस्पताल सहित कुल नौ केंद्रों पर टीकाकरण किया गया। गुरुवार को कुल 469 लोगों को टीका लगाया गया। अभियान में विभिन्न स्वास्थ्य अधिकारियों द्वारा कोविड-19 का टीका लिया गया।

इस दौरान जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी डॉ. डीएन. झा, जिला कार्यक्रम प्रबंधक मनीष कुमार, जिला अनुश्रवण और मूल्यांकन पदाधिकारी राजेश कुमार झा के साथ ही अन्य अधिकारी ने भी टीका लगाया। इधर एसडीओ शंकर शरण ओमी व एसडीपीओ अमरकांत झा ने भी सदर अस्पताल पहुंच टीकाकरण का जायजा लिया।

इस दौरान अधिकारियों ने बताया कि कोविड वैक्सीन सभी लोगों को स्वत: लगाना चाहिए। इसका कोई भी दुष्परिणाम नहीं होता है। टीका लगाने से लाभान्वित लोगों की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है। वर्तमान में कोरोना संक्रमण को रोकने का यह एकमात्र विकल्प है। अत: टीकाकरण के प्रथम चरण में शामिल सभी स्वास्थ्य कर्मियों को अपने निर्धारित समय पर टीका अवश्य लगाना चाहिए।

सुरक्षित है कोविड-19 के लिए उपलब्ध टीका :

जिला कार्यक्रम प्रबंधक मनीष कुमार ने बताया कि कोविड-19 के लिए उपलब्ध कराया गया टीका पूरी तरह से सुरक्षित है। टीका पूरी तरह परीक्षण एवं जांच के बाद ही भेजा गया है। इसके प्रथम चरण में सभी स्वास्थ्य कर्मियों को टीका लगाया जा रहा है। किसी प्रकार की कोई भी समस्या होने कि स्थिति से निपटने के लिए भी स्वास्थ्य विभाग पूरी तरह से तैयार है। अत: सभी स्वास्थ्य कर्मी जिसका पंजीकरण टीकाकरण के लिए हो गया है, उन्हें टीका जरूर लगाना चाहिए। प्रथम चरण में स्वास्थ्य कर्मियों को दिया जा रहा टीका :

कोविड.19 टीकाकरण के प्रथम चरण में स्वास्थ्य कर्मियों एवं आईसीडीएस कर्मियों को टीका लगाया जा रहा है। इसके लिए पूर्व में ही सभी कर्मियों का पंजीकरण किया गया है। टीकाकरण के लिए पंजीकृत लाभार्थियों को उनके दिए गए मोबाइल नंबर पर एसएमएस द्वारा उनके टीकाकरण स्थल, समय और दिन की जानकारी दी जाती है। लाभार्थी अपने तय स्थल पर कोविड.19 टीका ले सकते हैं। टीकाकरण के बाद लाभार्थी को 30 मिनट तक टीकाकरण स्थल पर ही रहकर अपने स्वास्थ्य की निगरानी करानी है।

लाभार्थी के अनुपस्थित रहने पर दिया जाता है एक और मौका

जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी डॉ डीएन झा ने बताया कि यदि कोई लाभार्थी अपने तय समय में टीका लेने में असमर्थ रहता है तो उन्हें एक अतिरिक्त अवसर टीका लगाने के लिए दिया जाता है। यदि अतिरिक्त अवसर पर भी लाभार्थी टीका लगवाने नहीं आए तो उन्हें टीका के लिए अगला अवसर नहीं दिया जाएगा। कोविड.19 के लिए उपलब्ध टीका का दो डोज 28 दिन के अंतराल पर लिया जाना है। दूसरे डोज के लिए पुन: स्वास्थ्य विभाग द्वारा लाभार्थी को एसएमएस द्वारा जानकारी दी जाती है। अफवाहों पर न करें यकीन : जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी डॉ डीएन झा ने बताया कि टीकाकरण को लेकर आमजनों के बीच बहुत तरह की अफवाहें देखी जा रही हैं। टीकाकरण पूरी तरह सुरक्षित है। देश के वैज्ञानिकों द्वारा जांच और परीक्षण के बाद ही इसे टीकाकरण के लिए उपलब्ध कराया गया है। अत: किसी तरह की अफवाहों पर लोगों को यकीन नहीं करना चाहिए। स्वास्थ्य विभाग लोगों के बेहतर स्वास्थ्य के लिए सदैव तत्पर है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.