प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र तेलता में चिकित्सक के साथ दवा की भी रहती है कमी

संवाद सूत्र बलरामपुर (कटिहार) बलरामपुर प्रखंड में वर्षों से लोगों को सरकारी स्वास्थ्य सुि

JagranSat, 04 Dec 2021 07:37 PM (IST)
प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र तेलता में चिकित्सक के साथ दवा की भी रहती है कमी

संवाद सूत्र, बलरामपुर (कटिहार): बलरामपुर प्रखंड में वर्षों से लोगों को सरकारी स्वास्थ्य सुविधाओं का लाभ नहीं मिल पा रहा है। प्रखंड मुख्यालय तेलता स्थित प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में चिकित्सकों के साथ-साथ दवा का भी टोटा रहता है। यहां लोग समुचित सरकारी स्वास्थ्य सुविधाओं का लाभ नहीं उठा पा रहे हैं। मजबूरन लोग ग्रामीण झोला छाप चिकित्सकों से इलाज कराने को विवश हैं। सरकार कहती है कि राज्य के ग्रामीण क्षेत्रों में सरकारी स्वास्थ्य सुविधाओं की स्थिति में सुधार हुआ है, लेकिन बलरामपुर की स्थिति सारी सच्चाई बयां करती है।

उप स्वास्थ्य केंद्रों की स्थिति बदतर: प्रखंड में अतिरिक्त प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र एवं उप स्वास्थ्य केंद्रों की स्थिति भी बदतर ही है। बलरामपुर स्थित अतिरिक्त प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में एकमात्र आयुष चिकित्सक डा. राजीव शर्मा पदस्थापित हैं। जबकि स्टेट हाईवे के किनारे एवं बलरामपुर थाना से कुछ ही दूरी पर अवस्थित उक्त स्वास्थ्य केंद्र का काफी महत्व है। यहां दवाई का हमेशा से अकाल रहता है। विभाग द्वारा जरूरत के मुताबिक कभी भी दवा की उपलब्धता सुनिश्चित नहीं की जाती है। इसके अलावे भी अन्य उप स्वास्थ्य केंद्रों पर कोई सरकारी सुविधा नहीं मिल पाती है और न ही चिकित्सकों का दर्शन हो पाता है। झोला छाप चिकित्सक के भरोसे मरीज बदहाल सरकारी स्वास्थ्य सुविधा की वजह से प्रखंड के लोग झोला छाप ग्रामीण चिकित्सकों पर ही आश्रित हैं। खासकर पूर्वी भाग के भिमियाल, फतेहपुर, बलरामपुर, शाहपुर, शरीफनगर, महिशाल आदि पंचायतों में तो सरकारी स्वास्थ्य सुविधाओं के नाम पर कुछ भी नहीं है। ऐसे में लोग विवश होकर ग्रामीण चिकित्सकों से इलाज कराते हैं या फिर पश्चिम बंगाल के सरकारी अस्पतालों की ओर रुख करते हैं। क्या कहते हैं ग्रामीण बलरामपुर प्रखंड के ग्रामीणों का कहना है कि गरीबों के लिए अस्पताल तो बनाए गए लेकिन चिकित्सक एवं दवाओं का कोई ठिकाना नहीं है। चिकित्सक भी ड्यूटी पर कम प्राइवेट क्लिनिक पर ज्यादा ध्यान देते हैं। भाजपा नेता संजीव मिश्रा, बलरामपुर मुखिया प्रतिनिधि अब्दुस समद उफऱ् लाडला, जदयू युवा प्रखंड अध्यक्ष पंकज कुमार, पंचायत समिति सदस्य दीपाली रानी मोदक, प्रमोद कुमार दास, प्रेमलाल दास आदि ने जिलाधिकारी से बलरामपुर में बदहाल सरकारी स्वास्थ्य सुविधाओं में सुधार लाने की मांग की है।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.