बैंककर्मी लूटकांड का पर्दाफाश, पिस्तौल के साथ बदमाश गिरफ्तार

संवाद सूत्रफलका(कटिहार) 18 सितंबर को फलका थाना क्षेत्र के कुरसेला-फारबिसगंज स्टेट हाइवे-77 पर अमरपुर बरेटा गांव के समीप तीन अज्ञात बाइक सवार बदमाशों द्वारा हथियार के बल पर बंधन बैंक कर्मी से 36 हजार नगद सहित मोबाइल लूट मामले का पुलिस ने पर्दाफाश कर लिया है।

JagranTue, 30 Nov 2021 11:45 PM (IST)
बैंककर्मी लूटकांड का पर्दाफाश, पिस्तौल के साथ बदमाश गिरफ्तार

संवाद सूत्र,फलका(कटिहार): 18 सितंबर को फलका थाना क्षेत्र के कुरसेला-फारबिसगंज स्टेट हाइवे-77 पर अमरपुर बरेटा गांव के समीप तीन अज्ञात बाइक सवार बदमाशों द्वारा हथियार के बल पर बंधन बैंक कर्मी से 36 हजार नगद सहित मोबाइल लूट मामले का पुलिस ने पर्दाफाश कर लिया है। सोमवार की रात फलका पुलिस ने एक बदमाश को देसी कट्टा, गोली के साथ गिरफ्तार कर लिया। पकड़े गए अपराधी के पास से लूट का छह हजार रूपया भी बरामद किया गया। सदर एसडीपीओ ओमप्रकाश ने जानकारी देते हुए बताया कि गोबिदपुर दियरा निवासी एक बदमाश अमित कुमार हथियार के साथ अपने कामत पर पहुंचने की सूचना मिली। सूचना के आधार पर छापामारी की कार्रवाई की। पुलिस को देखते हुए आरोपित ने भागने की कोशिश की। खदेड़कर पुलिस ने आरोपित को धर दबोचा। तलाशी में युवक के पास से देसी कट्टा व गोली बरामद किया गया। गिरफ्तार अपराधी ने पूछताछ में बंधन बैंककर्मी से लूट के अतिरिक्त 26 नवंबर को कुरसेला थाना क्षेत्र के नवाबगंज के समीप सीएसपी संचालक से दो लाख रुपये लूट सहित अन्य कांडों में अपनी संलिप्तता स्वीकार की है। फरार अन्य अपराधियों की गिरफ्तारी को लेकर छापेमारी की जा रही है।

--------------------

संवाद सहयोगी कटिहार : अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश पंचम की अदालत ने मुखिया पति की हत्या की दोषी पाते हुए। बलरामपुर तेलता थाना अतर्गत बालुगंज के गरीब नवाज एवं उसके भाई मु. जहुर आलम को आजीवन कारावास की सजा मंगलवार को सुनायी हैं। एक लाख अर्थदंड एवं आ‌र्म्स एक्ट में सात साल कैद व 25 हजार रूपया अर्थदंड का भी आदेश दिया हैं।

इस सत्रवाद के अपर लोक अभियोजन राजेद्रर कुमार मिश्रा थे। इस वाद में एक दर्जन गवाहों की न्यायालय में गवाही कराई गई थी। मृतक रामपुर पंचायत की मुखिया मोमिना खातुन के पति थे। मृतक खुशदिल पूर्व में मुखिया रह चुके थे। घटना को लेकर मृतक के भाई रोशनगंज के निवासी मु. तुराब अली ने तेलता ओपी में मामला दर्ज कराते हुए। कहा था कि 14 मार्च 2019 को उसका भाई खुशदिल बुलेट से घर की ओर आ रहा था। कि रास्ते में अठाइसा बांसबाड़ी के पास फायरिग की आवाज सुनी गई। गोली की आवाज सुनकर मौके पर जाने पर खुशदिल को खून से लथपथ देखा। बाद में उसकी मौत हो गई। दोनों आरोपितों के साथ संजीव मिश्रा भी था। घटना का कारण चुनावी रंजिश बताया था।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.