जिले में अपग्रेड हुए विद्यालयों में अब होगी 12वीं तक की पढ़ाई

जिले के पंचायत स्तर पर अपग्रेड किए गए विद्यालयों में अब छात्र-छात्राएं 12 वीं तक की शिक्षा ग्रहण करेंगे। शैक्षणिक सत्र 2021-22 में 12वीं तक की पढ़ाई संचालित कराने की तैयारी की जा रही है।

JagranFri, 11 Jun 2021 05:06 PM (IST)
जिले में अपग्रेड हुए विद्यालयों में अब होगी 12वीं तक की पढ़ाई

कैमूर। जिले के पंचायत स्तर पर अपग्रेड किए गए विद्यालयों में अब छात्र-छात्राएं 12 वीं तक की शिक्षा ग्रहण करेंगे। शैक्षणिक सत्र 2021-22 में 12वीं तक की पढ़ाई संचालित कराने की तैयारी की जा रही है। शुक्रवार को जिलाधिकारी नवदीप शुक्ल की अध्यक्षता में शिक्षा विभाग की समीक्षा बैठक हुई।

समीक्षा बैठक में कई आवश्यक दिशा निर्देश दिए गए। बैठक के संबंध में जिला कार्यक्रम पदाधिकारी समग्र शिक्षा अक्षय कुमार पांडेय ने बताया कि बैठक में जिले के 18 पंचायतों में उत्क्रमित किए गए माध्यमिक विद्यालयों में अब 12 वीं तक का पठन-पाठन कराया जाएगा। इसको लेकर इसी शैक्षणिक सत्र में छात्र-छात्राओं के नामांकन की प्रक्रिया प्रारंभ होगी। विद्यालयों में निर्माण कार्य पूर्ण करने के लिए सिविल डिपार्टमेंट को अगस्त तक का समय निश्चित किया गया है। विद्यालयों में अतिरिक्त वर्ग कक्ष शौचालय लाइब्रेरी सहित अन्य निर्माण कार्य अगस्त में पूर्ण करने की बात कही गई है। बैठक में विभिन्न प्रखंड क्षेत्रों के अंतर्गत 8 विद्यालय भूमिहीन हैं। इन विद्यालयों के संचालन के लिए भूमि की उपलब्धता सुनिश्चित कराने के लिए भूमिदाताओं से समन्वय स्थापित कर भूमि की उपलब्धता सुनिश्चित कराए जाने के संबंध में भी चर्चा की गई। ताकि विद्यालयों का भवन निर्माण कराया जाए। भूमिहीन विद्यालय पास के विद्यालयों में शिफ्ट कर संचालित किए जा रहे हैं ताकि विद्यालय में नामांकित छात्र छात्राओं का पठन-पाठन प्रभावित नहीं हो। पूर्व के वर्षों में कैमूर जिले में 22 विद्यालय भूमिहीन थे। जिनमें से 14 विद्यालयों को अब भूमि प्राप्त हो चुकी है। बैठक में समय समावेशी शिक्षा के अंतर्गत वित्तीय वर्ष 2019-20 में प्रखंडों में दिव्यांग बच्चों का सर्वे कराकर सहायक उपकरण वितरण हेतु बच्चों को चिन्हित किया गया था इस पर पर चर्चा हुई। चयनित बच्चों में से 369 बच्चों के बीच वितरित किए गए। बैठक में सभी बीईओ, बीआरपी व लेखापाल अपने परिवार तथा परिचितों को टीका लगवाने के लिए प्रेरित करें तथा स्कूलों के छात्र-छात्राओं के अभिभावकों को भी टीका लगवाने के लिए जागरूक करने की बात कही।

बता दें कि राज्य सरकार पंचायत स्तर पर उच्च शिक्षा उपलब्ध कराने के लिए पूर्व से संचालित मध्य विद्यालयों को अपग्रेड कर 12 वीं तक की पठन-पाठन की व्यवस्था की है। ताकि पंचायत स्तर पर छात्र छात्राओं को बेहतर उच्च शिक्षा मिल सके।

बता दें कि बीते वर्षों में जिले के 18 पंचायतों में मध्य विद्यालयों को अपग्रेड किया गया था। बैठक में जिला शिक्षा पदाधिकारी सूर्यनारायण, जिला कार्यक्रम पदाधिकारी समग्र शिक्षा अक्षय कुमार पांडेय, जिला कार्यक्रम पदाधिकारी स्थापना दयाशंकर सिंह के अलावा शिक्षा विभाग से संबंधित सभी विभागों के पदाधिकारी उपस्थित थे।

जिले के इन विद्यालयों में अब होगा 12 वीं तक का पठन-पाठन

म.वि.अकोढी़

म.वि. बढ़ौरा

रा.कृ.म. विद्यालय

म.वि.भदौला

राज.कृ. मध्य विद्यालय रामडिहरा

क.म. विद्यालय जहानाबाद

मध्य विद्यालय खजुरा

उत्क्रमित मध्य विद्यालय सरेया

उ.म.वि. शिवरामपुर

उ.,म.वि.वभनी हिदी

उ.म. विद्यालय भगवतीपुर

उ.म.वि. रूपीन

उ.म.वि.मानपुर

उ.म.वि.ससना

श्री राम अवतार सिंह, उ.म.वि.नसेज

उ.म.वि. गम्हरियां

म.वि.छाता

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.