ट्रेनों से सुखद होगा राजधानी का सफर

पैसेंजर ट्रेनों से राजधानी पटना को आवागमन करने वाले यात्रियों की सुविधा के लिए पूर्व मध्य रेल ने महत्वपूर्ण कदम उठाया है। उसने 15 नवंबर से छह जोड़ी पैसेंजर ट्रेनों का स्थाई संवर्धन कर उनके कोच की संख्या बढ़ाकर 22 कर दी है। इनमें पांच जोड़ी ट्रेनें राजधानी पटना तक जाने आने वाली हैं। जिनमें तीन जोड़ी ट्रेनें कैमूर व रोहतास जिले के स्टेशनों से होकर गुजरती हैं।

रेल सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक जिन ट्रेनों के कोच की संख्या स्थाई रूप से बढ़ाकर 22 कर दी गई है, उनमें 13243 पटना भभुआ इंटरसिटी और 13244 भभुआ पटना इंटरसिटी, 13249 पटना भभुआ इंटरसिटी और 13250 भभुआ पटना इंटरसिटी, 53211 पटना सासाराम पैसेंजर और 53212 सासाराम पटना पैसेंजर तथा 53213 पटना गया पैसेंजर और 53214 गया पटना पैसेंजर शामिल हैं।

बताते चलें कि इनमें से अधिकांश ट्रेनों में पूर्व में कोच की संख्या 15 थी। जिन्हें बढ़ाकर हाल ही में 18 से 20 के बीच किया गया था। अब उन सभी ट्रेनों में कोच की संख्या स्थाई रूप से संवर्धित कर 22 कर दी गई है। उम्मीद जताई जा रही है कि रेलवे द्वारा उठाए गए इस कदम से राजधानी पटना को आवागमन करने वाले दैनिक व सामान्य श्रेणी के रेलयात्रियों को भीड़-भाड़ से कुछ निजात मिलेगी तथा पहले की तुलना में उनकी यात्रा कुछ अधिक सुविधाजनक होगी। खासकर कैमूर जिले के लोगों को पटना आने-जाने में काफी सुविधा होगी। क्या कहते हैं पदाधिकारी

भविष्य में आवश्यकता के अनुसार इन ट्रेनों को संवर्धित कर 24 कोच का किया जाएगा। अतिरिक्त कोचों के साथ ट्रेनों के संवर्धन से रेलयात्रियों को आवागमन में सुविधा होगी।

राजेश कुमार, मुख्य जनसंपर्क अधिकारी, पूर्व मध्य रेल

1952 से 2019 तक इन राज्यों के विधानसभा चुनाव की हर जानकारी के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.