भभुआ नगर में कूड़ा निस्तारण की व्यवस्था नहीं

भभुआ नगर में कूड़ा निस्तारण की व्यवस्था नहीं

जिला मुख्यालय भभुआ नगर में स्वच्छता की जिम्मेदारी संभाल रहे नगर परिषद द्वारा वातावरण को प्रदूषित किया जा रहा है।

Publish Date:Mon, 30 Nov 2020 11:24 PM (IST) Author: Jagran

कैमूर। जिला मुख्यालय भभुआ नगर में स्वच्छता की जिम्मेदारी संभाल रहे नगर परिषद द्वारा वातावरण को प्रदूषित किया जा रहा है। कहने को तो प्रतिदिन नगर में कूड़ा का उठाव कराया जाता है। लेकिन उसका निस्तारण सही तरीके से नहीं कर सड़कों के किनारे ही फेंक दिया जाता है। इससे न सिर्फ वातावरण प्रदूषित हो रहा है बल्कि उस रास्ते से आने जाने वाले लोगों को काफी परेशानी का सामना भी करना पड़ रहा है। भभुआ चैनपुर पथ पर सुअरा नदी के किनारे प्रतिदिन 10 ट्रॉली कूड़ा गिराया जा रहा है। इससे वहां कूड़े का अंबार हो गया है। अधिक दिन तक कूड़ा रहने के चलते दुर्गंध निकल रही है। कूड़े पर पशु भी दिन भर रहते हैं। जो कूड़े को इधर-उधर कर देते हैं। इससे रास्ते से आने जाने वाले लोगों को नाक मुंह बंद कर ही आना जाना पड़ता हैं। बता दें कि पिछले साल स्वच्छता सर्वे में नगर परिषद काफी पीछे रह गया था। लेकिन इस सर्वे के बाद भी नगर परिषद अपने कार्यों में सुधार नहीं कर रहा। पूर्व में कूड़े में गीले और सूखे कचरे को अलग कर जैविक खाद बनाने की योजना थी। शुरुआती दौर में इस कार्य के लिए सफाई कर्मियों को भी कचरा अलग अलग करने के लिए लगाया गया था। लेकिन एक दो महीना के बाद यह योजना पूरी तरह ठप हो गई। आज स्थिति यह हो गई है कि भभुआ भगवानपुर, भभुआ चैनपुर, भभुआ मोहनिया पथ पर नगर के बाहर कूड़े का डंप कराया जा रहा है। जबकि कूड़ा निस्तारण के लिए पूर्व में पदाधिकारियों द्वारा स्थान का चयन किया गया था। जिसकी स्थलीय जांच भी की गई थी। लेकिन अब तक कूड़ा निस्तारण के स्थान पर कूड़ा डंप नहीं कराया जा रहा है। जबकि भभुआ नगर में प्रतिदिन 20 -25 ट्रॉली कूड़ा निकलता है। इतना अधिक कूड़ा तीन चार जगहों पर गिराने से उसके आसपास रहने वाले लोग भी नगर परिषद के इस कार्य पर नाराजगी प्रकट कर रहे हैं।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.