दक्षिणी दौलतपुर में अब भी जलभराव, लोग परेशान

यास चक्रवात के खत्म हुए कई दिन बीत गए लेकिन मोहल्ले में उस समय हुई बारिश के बाद जलभराव अब भी कायम है।

JagranSat, 12 Jun 2021 04:57 PM (IST)
दक्षिणी दौलतपुर में अब भी जलभराव, लोग परेशान

जागरण संवाददाता, जहानाबाद

यास चक्रवात के खत्म हुए कई दिन बीत गए, लेकिन मोहल्ले में उस समय हुई बारिश का पानी अब भी जमा हुआ है। राजा बाजार के वार्ड संख्या तीन दक्षिणी दौलतपुर मोहल्ले में नालियां बजबजा रहीं हैं। बारिश के पानी की निकासी के लिए हीं यहां नाले का निर्माण बुडको द्वारा कराया जाना था। एक करोड़ 46 लाख की लागत से इस बड़े नाले के निर्माण को लेकर गड्ढे खोदे गए थे। जोर शोर से खोदाई प्रारंभ हुई थी, लेकिन अचानक कार्य बंद हो गया।

अब नाले के लिए खोदे गए गड्ढे मोहल्लेवासियों को परेशान कर रहे हैं। कई लोग इसमें गिरकर जख्मी भी हो गए हैं। बड़े लोगों को हमेशा बच्चों पर नजर रखना पड़ता है ताकि वे इस गहरे गड्ढे की ओर नहीं जा सकें। नाले का निर्माण कार्य बंद होने के पीछे तकनीकी समस्या बताया जा रहा है। शहर में रहने के बावजूद दर्जनों घर के लोग बरसात में मोटरसाइकिल से आ जा नहीं सकते हैं। दरधा नदी में जब उफान आता है, तब इस मुहल्ले के दर्जनों घर के लोग कुछ दिनों के लिए विस्थापित हो जाते हैं। फिर पानी कम होने के उपरांत वे नए सिरे से अपना बसेरा बनाते हैं। इसमें से कई ऐसे घर भी हैं जो रैयती जमीन पर बसे हैं फिर भी बाढ़ से नुकसान के उपरांत मुआवजा नहीं मिल पाता है। पिछले वर्ष तकरीबन 30 घरों को पानी से काफी क्षति पहुंची थी। जिसका सर्वे भी हुआ था लेकिन मुआवजे के नाम पर अभी तक कुछ भी नहीं मिल सका है। नगर परिषद द्वारा संचालित योजना के तहत इस वार्ड में गली नली की समस्या को दूर करने के उद्देश्य से कई कार्य भी कराए गए हैं। हाल में हीं राजेश पासवान के घर से मेन रोड तक,गुड्डू शर्मा के मकान से रेलवे लाइन पर तथा छोटे सिंह के मकान से गोरैया स्थान तक साढे सात-सात लाख की लागत से नाली तथा पीसीसी की ढलाई का कार्य हुआ है। लेकिन पुराने घर निर्मित नाले से काफी नीचे हो गया। जिसके कारण घरों का पानी इन नलियों के माध्यम से निकलना संभव नहीं है। परिणामस्वरूप नवनिर्मित नालियां भी शोभा की वस्तु बनकर रह गई। दलित तथा महादलितों समुदाय की बहुलता वाले इस मोहल्ले में सरकारी स्तर पर कोई विद्यालय संचालित नहीं है।जिसके कारण बच्चों को दूसरे वार्ड में सरकारी विद्यालय में पढ़ने के लिए जाना पड़ता है। वार्ड एक नजर में आबादी - आठ हजार

मतदाता - 5200 आंगनबाड़ी केंद्र- दो

सरकारी विद्यालय--एक भी नहीं चौहदी

उतर-एचएच 110 दक्षिण-दरधा नदी

पूर्व - रेलवे लाइन पश्चिम-जहानाबाद कॉलेज जहानाबाद -------------

नाले का निर्माण न होने से दिन प्रतिदिन समस्या बढ़ रही है। हम लोग इसे लेकर संबंधित अधिकारियों से भी फरियाद कर चुके हैं लेकिन समस्या का समाधान नहीं हो रहा है।

रंजीत पासवान

फोटो-05 अभी तो थोड़ा पानी कम हुआ है। बरसात में तो घर से बाहर निकलना मुश्किल हो जाता है। जलजमाव के कारण मच्छरों का प्रकोप भी दिन-प्रतिदिन बढ़ रहा है।

राजेश्वर प्रसाद

फोटो-06 यहां समस्याओं का अंबार है। सड़क बननी थी, लेकिन उसका भी निर्माण पूरा नहीं हो सका। सरकारी स्तर पर जो कार्य होना चाहिए था वह नहीं हो रहा है।

विवेक कुमार

फोटो-07 मोहल्ले में नल जल का कार्य भी पूरा हो गया है। लेकिन इधर नल से गंदा पानी आ रहा है।

राजेश्वर पासवान

फोटो-08 --------------------

हमारे पास संसाधन तथा फंड दोनों सीमित है। हमेशा प्रयास में रहती हूं कि वार्ड वासियों को किसी प्रकार की परेशानी न हो। अधूरे नाले तथा सड़क को लेकर बुडको से लगातार संपर्क किया जा रहा है। लेकिन कोई सकारात्मक जवाब नहीं मिल रहा है।

श्वेता देवी, पार्षद

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.