जो किसान नहीं वह हिन्दुस्तान भी नहीं : माले

जो किसान नहीं वह हिन्दुस्तान भी नहीं : माले

जहानाबाद। जो किसान का नहीं हो सका वह हिन्दुस्तान का भी नहीं हो सकता।

JagranWed, 27 Jan 2021 11:46 PM (IST)

जहानाबाद। जो किसान का नहीं हो सका वह हिन्दुस्तान का भी नहीं हो सकता। भाकपा माले के विधायक सतीश कुमार ने उक्त बातें मानव श्रृंखला में शामिल होने के लिए आयोजित सभा में कही।

विधायक सतीश कुमार ने कृषि कानून की निंदा करते हुए कहा कि जो किसान का नहीं है वह कभी हिदुस्तान का नहीं हो सकता। यह कानून पूरी तरह से कारपोरेट परस्त कानून है। मानव श्रृंखला को लेकर मखदुमुर महागठबंधन के विधायक सतीश कुमार के नेतृत्व में कृषि कानून के खिलाफ आगामी 30 जनवरी को राज्यव्यापी श्रृंखला को लेकर नुक्कड़ सभा का आयोजन किया गया।

कानून लागू होने से पहले अंबानी बिग बाजार की खरीददारी कर गूगल और फेसबुक के साथ रिटेल में उतरने का समझौता कर लिया है। अडानी अन्न भंडारण के लिए एक साल पहले गोदाम का निर्माण करा लिया है। मोदी सरकार किसानों को इस कारपोरेट घरानों का गुलाम बनाने पर आमदा है। उन्होंने स्पष्ट शब्दों में कहा कि किसानों की उपेक्षा एवं इनपर अत्याचार बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। उन्होंने कानून को वापस ले न्यूनतम समर्थन मूल्य पर फसल खरीदने की गारंटी के लिए कानून बनाने,किसानों का ऋण माफ तथा स्वामीनाथन कमीशन की रिपोर्ट को लागू करने की मांग की। विधायक ने कहा कि 30 जनवरी को महागठबंधन द्वारा आयोजित मानव श्रृंखला ऐतिहासिक होगा। उन्होंने नेताओं, कार्यकर्ताओं एवं किसानों से आह्वान किया कि बड़ी संख्या में सड़क पर उतर कर बापू के सपनों को साकार करें। लोकतंत्र की हिफाजत करें, संविधान की रक्षा करें एवं तानाशाही सरकार को सबक सिखाए। इस मौके पर प्रखंड अध्यक्ष राजप्रेम यादव, फतो खां, ललन यादव , पूर्वी सरेन मुखिया संतोष यादव ,मनोज यादव , सीपीआई अंबिका यादव, रंजीत यादव, सारिक फतह ,सलेश यादव ,बबलू यादव, सौरव यादव, ऋषव कुशवाहा ,धर्मेंद्र यादव, सुरेन्द्र यादव उपेन्द्र वर्मा सहित कई नेता व कार्यकर्ता उपस्थित थे।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.