कोराना संक्रमण घटकर 10 फीसद पहुंचा

कोराना संक्रमण घटकर 10 फीसद पहुंचा

जहानाबाद कोरोना संक्रमण को जिले में मात मिल रही है और रिकवरी रेट 90 फीसद पहुंच गया है।

Publish Date:Wed, 09 Sep 2020 11:10 PM (IST) Author: Jagran

जहानाबाद : कोरोना संक्रमण को जिले में मात मिल रही है और रिकवरी रेट 90 फीसद पहुंच गया है। इसके बाद भी खतरा टला नहीं है क्योंकि वायरस का प्रकोप अभी भी अन्य क्षेत्रों में तेजी से फैल रहा है। संक्रमण को नजरअंदाज कर लापरवाही बरता जान जोखिम में डालना होगा। मास्क लगाने, हाथों की साबुन से सफाई करने तथा भीड़ भाड़ वाली जगहों पर जाने से बचने के नियम का पालन करना होगा। बाहर तभी निकलें जब बहुत आवश्यक हो, घर से बाहर निकलनक के दौरान शारीरिक दूरी का पालन बहुत जरूरी है। संक्रमण की चेन को पूरी तरह से तोड़ने के लिए स्वास्थ्य विभाग की टीम लोगों को जागरुक कर रही है।

- जिला में रिकवरी रेट 90 फीसद

सिविल सर्जन डॉ विजय सिन्हा कोविड 19 संक्रमण की रोकथाम में स्वास्थ्य विभाग और आमजन की सामूहिक भागीदारी का परिणाम सामने आया है। स्वास्थ्य विभाग द्वारा जागरूकता कार्यक्रमों के बाद लोगों में नियमों का पालन करने को लेकर बहुत अधिक सजगता है। इसका परिणाम है कि जहानाबाद जिले में संक्रमण का रिकवरी रेट 90 प्रतिशत हो गया है। कोरोना पॉजिटिव 100 लोगों में से 90 प्रतिशत लोग ठीक हुए हैं। यह रिकवरी रेट राज्य के औसत रिकवरी रेट से भी ज्यादा है। राज्य का औसत रिकवरी रेट 89 फीसद है। रिकवरी रेट के मामले में जहानाबाद राज्य के चुनिदा जिलों में शामिल हो गया है। इसमें अरवल, नवादा भी शामिल है। - सतर्कता में नहीं रखें कोई कमी संक्रमण से रिकवरी रेट के आंकड़ें उत्साहजनक जरूर हैं, लेकिन सर्तकता में जरा सी चूक स्थिति बिगाड़ सकती है। इसलिए कोरोना वायरस से बचाव के लिए अपनाए जाने वाले सुरक्षात्मक उपाय को अभी अपनी आदतों में शामिल रखें। जैसे-घर से बाहर निकलने पर मास्क का इस्तेमाल, घर वापस आने पर हाथ को साबुन से 40 सेकेंड तक धोना, शारीरिक दूरी का पालन आदि नियमों व एहतियातों को अपनाकर ही कोरोना वायरस पर विजय पाया जा सकता है।. - जागरुकता से कोरोना को दी जा सकती है मात

सिविल सर्जन डॉ विजय सिन्हा का कहना है कि लोग संक्रमण से बचाव को लेकर काफी जागरुक हुए हैं। यह सराहनीय है। जिले के रिकवरी रेट बढ़ने के साथ संक्रमण के मामलों में भी कमी आई है। जिले में सिर्फ 263 एक्टिव मामले हैं। इनमें ज्यादातर की स्थिति सामान्य है। इसलिए ये लोग होम आइसोलेशन में ही हैं, सिर्फ पांच लोग ही अस्पताल में भर्ती हैं। अभी जिले का रिकवरी रेट 90 प्रतिशत हो गया है। अर्थात जो भी व्यक्ति कोरोना पॉजिटिव हो रहे हैं उनमें 90 फीसद पूरी तरह से ठीक हुए हैं।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.