बंधक बना तीन लाख की संपत्ति ले गए डकैत

बंधक बना तीन लाख की संपत्ति ले गए डकैत

जहानाबाद। कड़ौना ओपी क्षेत्र के मुठेर गांव में शनिवार की रात हथिायारबंद अपराधियों ने राजू चौधरी के घर से लाखों की संपत्ति लूट लिया।

Publish Date:Sun, 24 Jan 2021 10:28 PM (IST) Author: Jagran

जहानाबाद। कड़ौना ओपी क्षेत्र के मुठेर गांव में शनिवार की रात हथिायारबंद अपराधियों ने राजू चौधरी के घर से लाखों की संपत्ति लूट लिया। परिवार के सभी सदस्यों को बंधक बना 95 हजार नगद समेत तीन लाख की संपत्ति ले गए।

घटना के संबंध में बताया जाता है कि रात्रि में तकरीबन दस की संख्या में हथियारबंद अपराधी छत के सहारे घर में घुस गए। हथियार का भय दिखाते हुए अपराधियों ने गृह स्वामी समेत पूरे परिवार को रसोईघर में बंद कर दिया। इसके बाद तकरीबन डेढ़ घंटे तक लुटेरे घर को खंगालते रहे। बक्से में रखे 95 हजार रुपये नकद और कीमती जेवरात समेत तीन लाख रुपये मूल्य की संपत्ति लुटेरे ले गए। बीच गांव में लूट की इस बड़ी वारदात की भनक आसपास के लोगों को भी नहीं लगी। दरअसल ठंड के मौसम में लोग गहरी नींद में सो रहे थे। हथियार के डर से पीड़ित परिवार हो हल्ला भी नहीं कर सका। घटना की जानकारी मिलते ही ओपी अध्यक्ष अजीत कुमार दल बल के साथ पहुंचे।

पुलिस पूरे मामले की जांच पड़ताल कर रही है। ओपी अध्यक्ष ने बताया कि इस बड़ी लूटकांड में गृहस्वामी राजू चौधरी के बयान पर दो नामजद व अन्य अज्ञात लोगों के विरुद्ध् प्राथमिकी दर्ज कराई गई है। इनसेट

दो माह बाद बेटी की होनी थी शादी अरमानों पर पानी फेर गए लुटेरे

राजू चौधरी मजदूरी कर मेहनत से बेटियां की हाथ पीले करने के उद्देश्य से पाई-पाई पैसा जोर कर पैसा जमा किया था।मजदूरी के साथ-साथ जीविकोपार्जन के लिए ताडी बेचने का भी काम करता था। दो माह बाद बेटी की शादी करनी थी इसलिए घर में पैसे भी रखे थे। आवश्यक जेवरात की खरीददारी हो गई थी। राजू चिता मुक्त होकर बेटी की शादी की तैयारी मे जुटा हुआ था। लेकिन उसके इस अरमानों पर पानी फेर दिया। बेटी को देने के लिए बनाए गए जेवरात तथा शादी में खर्च के उद्देश्य से रखे गए पैसे डकैत लूट कर चले गए। इस घटना के बाद परिवार के लोग सदमे में हैं। उनलोगों को अब इस बात की चिता सता रही है कि शादी के लिए अब इतनी बड़ी रकम की व्यवस्था कैसे होगी।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.