पदाधिकारियों की टीम ने सारण तटबंध का किया निरीक्षण

गोपालगंज बैकुंठपुर प्रखंड के प्यारेपुर मुंजा मटियारी पकहां सहित कई जगहों पर सार

JagranMon, 31 May 2021 10:30 PM (IST)
पदाधिकारियों की टीम ने सारण तटबंध का किया निरीक्षण

गोपालगंज : बैकुंठपुर प्रखंड के प्यारेपुर, मुंजा, मटियारी, पकहां सहित कई जगहों पर सारण तटबंध का पदाधिकारियों की टीम ने निरीक्षण किया। बताया जाता है कि बैकुंठपुर के पूर्व विधायक मंजीत सिंह ने तटबंधों की मरम्मत के कार्य में धांधली बरतने की शिकायत की थी। उन्होंने कहा था कि तटबंध की मरम्मत कार्य के प्रति पदाधिकारियों व संवेदक सजग नहीं हैं। जिसके बाद सोमवार को जिला भू अर्जन पदाधिकारी शम्स जावेद, एडीएम सह उप विकास आयुक्त वीरेंद्र प्रसाद, मनरेगा विभाग के डीपीओ साहब यादव, एसडीओ उपेंद्र पाल, प्रखंड विकास पदाधिकारी अरविद कुमार गुप्ता ने बैकुंठपुर प्रखंड के अंतिम छोड़ प्यारेपुर से मुंजा, मटियारी, पकहां आदि जगहों पर तटबंधों की मरम्मत कार्य का निरीक्षण किया। डीएम सह उप विकास आयुक्त वीरेंद्र प्रसाद ने बताया कि विभिन्न जगहों पर तटबंधों की मरम्मत कार्य का जांच किया गया। इस दौरान बाढ़ नियंत्रण विभाग अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिया गया। तटबंधों के मरम्मत कार्य में जो भी त्रुटियां हैं, उसे दुरुस्त करने का निर्देश दिया गया है। वहीं कनीय अभियंता अविनाश कुमार ने बताया कि लगातार हुई बारिश से तटबंध का स्लोप थोड़ा सा नीचे दबा था। मरम्मत का कार्य कराया जा रहा है।

सारण तटबंध का स्लूइस गेट खुला होने से चंवर में बढ़ रहा पानी

संवाद सूत्र,मांझा(गोपागंज) : मांझा प्रखंड के गौसियां में सारण तटबंध का स्लूइस गेट खुला रहने से गंडक नदी का पानी सहलादपुर गांव के चंवर में बढ़ रहा है । इसी बीच यास तूफान के प्रभाव से हुई बारिश की वजह से वाल्मीकिनगर बराज में पानी बढ़ जाने के कारण पानी का डिस्चार्ज किया गया है । हालांकि अभी स्थिति सामान्य है। लेकिन आमतौर पर मई के अंतिम सप्ताह में बंद रहने वाला स्लूइस गेट इस बार खुला हुआ है । चंवर में पानी बढ़ने से सैकड़ों एकड़ में खेती प्रभावित हो सकती है । ग्रामीणों ने बताया कि चंवर में पानी बढ़ने के साथ ही सारण तटबंध कई जगह रैटकट व रेनकट की वजह से कमजोर दिख रहा है । पिछले वर्ष जिधर बांध टूटा था, उस तरफ भी बांध की स्थिति ठीक नहीं है। अगर समय रहते मरम्मत का कार्य नहीं किया गया तो मानसून आने के बाद भारी तबाही मच सकती है। बाढ़ से सैकड़ों गांव प्रभावित हो सकते हैं । गौसियां पंचायत के पूर्व मुखिया राधारमण मिश्रा ने स्लूइस गेट को बंद करने तथा तटबंध पर हुए रेनकट की मरम्मत करने की मांग प्रशासन से किया है ।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.