स्वस्थ जीवन के लिए उचित पोषण का विशेष महत्व : डीएम

जागरण संवाददाता गोपालगंज समाहरणालय सभागार में आईसीडीएस के तत्वावधान में शुक्रवार को प

JagranSat, 25 Sep 2021 12:01 AM (IST)
स्वस्थ जीवन के लिए उचित पोषण का विशेष महत्व : डीएम

जागरण संवाददाता, गोपालगंज : समाहरणालय सभागार में आईसीडीएस के तत्वावधान में शुक्रवार को पोषण मेले का आयोजन किया गया। इस मेले का उद्घाटन जिलाधिकारी डा. नवल किशोर चौधरी व एसपी आनंद कुमार ने किया। उद्घाटन कार्यक्रम के बाद डीएम ने पोषण मेला में लगाए गए विभिन्न स्टालों का निरीक्षण किया तथा जानकारी प्राप्त की। जिलाधिकारी ने कार्यक्रम के दौरान कहा कि पोषण हर किसी के लिए आवश्यक है। देश के हर नागरिक को यह अधिकार है की वह सुपोषित हो। इसके लिए जन जागरुकता आवश्यक है।

डीएम ने कार्यक्रम के दौरान कहा कि इस साल पोषण माह के विभिन्न थीम हैं। इनमें पोषण वाटिका, योग एवं आयुष, क्षेत्रीय पोषण किट वितरण एवं गंभीर रूप से तीव्र कुपोषित बच्चों की पहचान एवं उनके बीच पौष्टिक भोजन का वितरण शामिल है। उन्होंने कहा कि बच्चों में दुबलापन तथा महिलाओं एवं बच्चों में एनीमिया हमारे लिए चुनौती है। इसमें सुधार लाने के लिए प्रयास किए जा रहे हैं। पोषण माह एक बेहतर अवसर है। जब हम सामुदायिक सहभागिता के माध्यम से अधिक से अधिक लोगों को पोषण पर जागरूक कर सकते हैं। साथ ही एनीमिया की समस्या को कम करने के लिहाज से उचित पोषण का विशेष महत्व है। डीएम ने कहा कि सभी लाभार्थियों को प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना तथा मुख्यमंत्री कन्या उत्थान योजना का लाभ देना सुनिश्चित करें। इस मौके पर जिलाधिकारी के अलावा एसपी आनंद कुमार, आइसीडीएस के डीपीओ शम्स जावेद अंसारी, पोषण अभियान के जिला समन्वयक बृजकिशोर प्रसाद आदि मौजूद रहे। स्लोगन लेखन व मेहंदी प्रतियोगिता का हुआ आयोजन

: पोषण मेले के दौरान पोषण के प्रति जागरूकता पैदा करने के उद्देश्य से आंगनबाड़ी सेविका व सहायिकाओं की मेहंदी प्रतियोगिता तथा स्लोगन लेखन कार्यक्रम का भी आयोजन किया गया। इसमें जिलाधिकारी व एसपी ने भी स्लोगन लिखकर आमजनों को जागरूकता संदेश दिया गया। इस मौके पर जिलाधिकारी ने हरी झंडी दिखाकर पोषण रथ को रवाना किया गया। पोषण रथ विभिन्न गली-मुहल्ले में जाकर आडियो के माध्यम पोषण के प्रति लोगों को प्रेरित करेगा। इस मौके पर आंगनबाड़ी सेविकाओं ने रंगोली भी बनाया। कार्यक्रम के दौरान डीएम ने अन्नप्राशन व गोदभराई का रस्म भी पूरा कराया।

पोषण के पांच सूत्रों से कुपोषण पर लगेगी लगाम

आइसीडीएस के डीपीओ शम्स जावेद अंसारी ने बताया कि कुपोषण को दूर करने के लिए पोषण के पांच सूत्र तैयार किए गए हैं। पहला सुनहरा 1000 दिन, डायरिया प्रबंधन, पौष्टिक आहार, स्वच्छता व साफ-सफाई, एनिमिया प्रबंधन शामिल हैं। इन पांच सूत्रों से कुपोषण पर लगाम लगाने की तैयारी की गई है। जिले के सभी प्रखंडों के आंगनबाड़ी केंद्रों में रंगोली बनाकर, पोषण वाटिका तथा रैली के माध्यम से लोगों को जागरूक किया जा रहा है। इस दौरान कोविड-19 के नियमों का पालन करते हुए आंगनबाड़ी केंद्र स्तर पर विभिन्न गतिविधियों का आयोजन करना है। उन्होंने बताया कि पोषण माह का मुख्य उद्देश्य देश के बच्चों, किशोरों एवं महिलाओं को कुपोषण मुक्त, स्वस्थ और मजबूत बनाना है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.