सहायता नहीं मिलने से आक्रोशित बाढ़ पीड़ितों ने किया प्रदर्शन

गोपालगंज। प्रखंड के पूर्वी एवं अंतिम छोर पर बसे प्यारेपुर पंचायत के बाढ़ पीड़ितों ने सहायता नहीं मिलने से आक्रोशित होकर मंगलवार को प्यारेपुर स्थित तटबंध से सटे शिव मंदिर के समीप प्रदर्शन किया। प्रदर्शनकारियों का आरोप था कि करीब एक सप्ताह पूर्व ही गांव में बाढ़ का पानी प्रवेश कर गया।

JagranTue, 22 Jun 2021 06:20 PM (IST)
सहायता नहीं मिलने से आक्रोशित बाढ़ पीड़ितों ने किया प्रदर्शन

गोपालगंज। प्रखंड के पूर्वी एवं अंतिम छोर पर बसे प्यारेपुर पंचायत के बाढ़ पीड़ितों ने सहायता नहीं मिलने से आक्रोशित होकर मंगलवार को प्यारेपुर स्थित तटबंध से सटे शिव मंदिर के समीप प्रदर्शन किया। प्रदर्शनकारियों का आरोप था कि करीब एक सप्ताह पूर्व ही गांव में बाढ़ का पानी प्रवेश कर गया। लोगों के घरों में करीब तीन फीट से ऊपर पानी था। यहां के लोग किसी तरह तटबंध एवं ऊंचे स्थानों पर शरण लेकर अपना जीवन बीता रहे हैं। परंतु अब तक प्रशासन के तरफ से किसी प्रकार की सहायता नहीं मिली है।

प्रदर्शनकारियों ने बताया कि बाढ़ पीड़ितों को सहायता मुहैया कराना तो दूर की बात, अबतक प्रशासनिक अधिकारी बाढ़ पीड़ितों का हाल जानने तक के लिए भी नहीं पहुंचा है। बाढ़ ग्रस्त इलाके में वास करने वाले अधिकतर लोग मेहनत मजदूरी पर आश्रित हैं। गांव में बाढ़ आ जाने की वजह से पेट की आग बुझाना भी मुश्किल हो गया है। प्रदर्शनकारियों ने चेतावनी देते हुए कहा कि आपदा के दौरान सरकार के तरफ से मिलने वाली सहायता अविलंब मुहैया नहीं कराई गई तो गांव के सभी बाढ़ पीड़ित प्रखंड कार्यालय का घेराव करने के लिए मजबूर होंगे। प्रशासन से शीघ्र पहल करने की मांग की गई। प्रदर्शनकारियों में विजय सिंह, जग्गू मुखिया, अवधेश सहनी, अनिल मुखिया, अनिता देवी, अनिल शर्मा, श्री साह, लक्ष्मण महतो, बलिस्टर महतो, मजिस्टर महतो, मुक्तिनाथ शर्मा, हाकिम महतो, शिवशंकर महतो, धर्मावती देवी, कविता देवी, फुलपत्ती देवी, ललिता देवी, मुनी देवी, हुकुम महतो, अनिल बैठा, कामेश्वर साह, वकील ठाकुर, जयराम महतो, शिवकली देवी, अवधेश सहनी आदि शामिल रहे।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.