दिल्ली

उत्तर प्रदेश

पंजाब

बिहार

उत्तराखंड

हरियाणा

झारखण्ड

राजस्थान

जम्मू-कश्मीर

हिमाचल प्रदेश

पश्चिम बंगाल

ओडिशा

महाराष्ट्र

गुजरात

Nawada: नशेड़ि‍यों की वजह से महिलाओंं को होना पड़ता है शर्मसार, अब ग्रामीणों ने लिया यह फैसला

शराब पीने वालों के बारे में थाने में देंगे सूचना। प्रतीकात्‍मक फोटो

नवादा के रोह प्रखंड के महरावां गांव के लोगों ने नशा करनेवालों को कड़ी चेतावनी दी है। कहा है‍ कि यदि सार्वजनिक जगहों पर नशा करते हुए पकड़े गए तो उन्‍हें जुर्माना भरना पड़ेगा। शराब पीने पर पुलिस को सूचित किया जाएगा।

Vyas ChandraSun, 16 May 2021 06:15 PM (IST)

रोह (नवादा), संवाद सूत्र। Liquor Ban in Bihar प्रतिबंध के बावजूद शराब के कारोबार के लिए बदनाम नवादा जिले के रोह प्रखंड में एक गांंव के लोगाें से कड़ा कदम उठाया है। अब गांव में यदि कोई सार्वजनिक स्‍थल पर शराब या ताड़ी का सेवन करते हुए पकड़ा गया तो उसे जुर्माना भरना पड़ेगा। यह साहसिक कदम उठाया है महरावां गांव के लोगों ने। गांव के लोगों ने आपस में बैठक कर नशापान को रोकने के लिए यह निर्णय लिया है। आपसी सहमति से प्रस्ताव पास किया है कि अगर सार्वजनिक स्थानों पर कोई भी ग्रामीण शराब या ताड़ी सेवन करते पकडे़ गए तो जुर्माना भरना पड़ेगा। इस कदम के बाद नशापान करने वाले लोगों की बेचैनी बढ़ गई है।

महिलाओं को होना पड़ता था शर्मसार, इसलिए लिया कठोर निर्णय

वही आसपास के गांव के लोग इसकी सराहना कर रहे हैं। वे भी अपने गांव में इस तरह का कदम उठाने की दिशा में पहल करने लगे हैं।  बैठक के दौरान ग्रामीणों ने चिंता व्यक्त करते हुए कहा कि खासकर संध्या के समय जब लोग आसपास के बाग-बगीचा या खेतों में बैठकर ताड़ी का सेवन करते हैं तो उस समय वहां से गुजरने वाली महिलाओं को काफी शर्मसार होना पड़ता है। महिलाओं की इस दशा को देखते हुए ही ग्रामीणों ने यह कदम उठाया है। इसलिए इसका पालन करना सभी का कर्तव्य है। क्योंकि शर्मसार होने वाली महिलाओं में हमारे ही घर की मां-बहनें होती है। ऐसे में उनकी इज्जत करना हमारा कर्तव्य है।

शराब पीने पर सीधे पुलिस को देंगे सूचना 

ग्रामीण विपिन कुमार ने बताया कि इस निर्णय की एक प्रति स्थानीय थाने को भी उपलब्ध करा दी गई है। ग्रामीणों के निर्णय में यह कहा गया है कि ताड़ी पीना ही है तो वे उसे अपने घर ले जाकर पीयें। बाहर ऐसा नहीं करें। बाहर में पीते पकड़े गए तो जुर्माना भरना पड़ेगा लेकिन शराब पी तो इसकी सूचना थाने को दी जाएगी। बैठक में समाजसेवी किशोरी प्रसाद, रघुनंदन प्रसाद, विपिन कुमार, जयनंदन महतो, रामस्वरूप प्रसाद, प्रेमन महतो आदि दर्जनों ग्रामीण उपस्थित थे।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.