Tragedy in Gaya: नानी के दांह संस्कार में गांव आए नाती की आहर में डूबने से मौत, घर में मचा कोहराम

गया जिले के तपसा में एक दर्दनाक हादसे में 20 साल के युवक की आहर में डूबने से मौत हो गयी। मृतक वजीरगंज प्रखंड के केवला निवासी सतयेनद्र यादव का पुत्र अंकुश कुमार अपनी नानी के दाह संस्कार के लिए तपसा आया था।

Prashant KumarWed, 21 Jul 2021 05:51 PM (IST)
आहर में डूबने से युवक की मौत। प्रतीकात्‍मक तस्‍वीर।

संवाद सूत्र, फतेहपुर (गया)। गया जिले के तपसा में एक दर्दनाक हादसे में 20 साल के युवक की आहर में डूबने से  मौत हो गयी। मृतक वजीरगंज प्रखंड के केवला निवासी सतयेनद्र यादव का पुत्र  अंकुश कुमार अपनी नानी के दाह संस्कार के लिए तपसा आया था।

बुधवार को नानी का दाह संस्कार गांव के श्मशान में किया गया। वहीं पास के आहार में दाह संस्कार के उपरांत कुश गाडने की परंपरा निभाई जा रही थी। इसी दौरान कुछ लोग आहर में नहाने लगे। अंकुश भी नहाने के लिए आहर में कुद गया। इस दौरान उसके स्वजन नहाने के बाद घर की ओर निकल गए। बीच रास्ते में लोगों की नजर अंकुश पर नहीं पड़ी तो उसके स्वजन उसे खोजने के लिए आहर की ओर दौड़ पड़े।

काफी मशक्कत के बाद उसे आहर से निकाला गया। इस दौरान अंकुश अचेत हो गया। आनन फानन में उसे इलाज के लिए सीएचसी फतेहपुर लाया गया जहां डाक्टर ने जांच के बाद उसे मृत घोषित कर दिया। नानी की चिता की आग ठंडी नहीं  हुई नाती की मौत गांव से पसरा सन्नाटा।

मंगलवार की देर रात तपसा निवासी विनोद कुमार की मां का इलाज के दौरान गया में मौत हो गयी। उनके दांह संस्कार में शामिल होने के लिए अंकुश अपने स्वजनों के साथ ननिहाल पहुंचा था। सभी के साथ वह श्मशान घाट पहुंचा था। किसी को क्या पता था कि एक चिता की आग ठंडी भी नहीं होगी और दूसरे का शव देखना पड़ेगा।

अंकुश की मौत के बाद पूरे तपसा एवं केवला गांव में मातमी सन्नाटा पसरा हुआ है। घटना के बाद दोनों परिवारों का रो रो कर बुरा हाल है। उसकी मां राेते-रोते बेहोश हो जा रही है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.