हसपुरा में ट्रैक्टर से धक्‍का लगने से छात्रा घायल, दुर्घटना के बाद आक्रोशित लोगों ने किया मुख्‍य सड़क जाम

यातायात परिचालन बाधित कर सड़क पर बैठीं महिलाएं। जागरण।

एक ट्रैक्टर के धक्के से एक छात्रा के पैर टूट जाने के बाद आक्रोशित तिलौती के ग्रामीणों ने बुधवार को पचरुखिया-गोह के मुख्य सड़क पर बिहटा गांव में सड़क जाम कर दिया। घंटों सड़क जाम रहा। सड़क जाम से सड़क के दोनों तरफ घण्टों वाहनों की कतार में लगी रहीं।

Prashant KumarWed, 03 Mar 2021 04:38 PM (IST)

संवाद सूत्र, हसपुरा (औरंगाबाद)। एक ट्रैक्टर के धक्के से एक छात्रा के पैर टूट जाने के बाद आक्रोशित तिलौती के ग्रामीणों ने बुधवार को पचरुखिया-गोह के मुख्य सड़क पर बिहटा गांव में सड़क जाम कर दिया। घंटों सड़क जाम रहा। सड़क जाम से सड़क के दोनों तरफ घण्टों वाहनों की कतार में लगी रहीं। छात्र-छात्राओं व आम जनता को जाम की वजह से काफी परेशानी झेलनी पड़ी। आक्रोशित ग्रामीण बालू के अवैध खनन को रोकने, मुआवजा नही दिलवाने, गोली चलाने वाला लड़के को गिरफ्तार करने, अवैध बालू खनन को रोकने, थानाध्यक्ष को निलंबित करने की मांग कर रहे थे।

ग्रामीणों का कहना था कि जबतक उनकी मांगें को पूरी नही किया जाता सड़क जाम को हटाया नही जाएगा। अनिश्चितकालीन सड़क जाम रखा जाएगा। ग्रामीणों ने कहा कि मंगलवार की शाम रविन्द्र चौधरी की लगभग 15 वर्षी पुत्री पम्मी कुमारी पचरुखिया से कोचिंग करके वापस अपने घर लौट रही थी कि बालु के अवैध खनन में लगे हुए ट्रेक्टर के बिहटा निवासी मालिक व चालक हेमंत कुमार उसी सड़क से गुजर रहा था कि उक्त छात्रा ट्रैक्टर के चपेट में आ गई। जिससे उसका पैर टूट गया।मुखिया सांतोष शर्मा, रवि शंकर सिंह ने बताया कि घायल के इलाज लिए जब हेमंत द्वारा तीन हजार दिया जा रहा था तो रवि ने कहा कि इतने इलाज नही हो सकता। इतने में बहस छिड़ गई।

इसी दौरान हेमंत के बुलावे पर पूर्व मुखिया नागेंद्र कुमार के दोनों पुत्र आये व पिस्तौल फायरिंग कर दी। बताया कि गोली तो छूटी नही लेकिन फिर पिस्तौल के बट्ट से रवि को मारकर घायल कर दिया गया। रवि के इलाज कराया। ग्रामीणों का आरोप है कि सूचना देने के बाद भी  प्रशासन द्वारा कोई कार्रवाई नहीं की गई तो ग्रामीण आक्रोशित हो गए और काफी संख्या में आकर सड़क जाम कर दिया। जाम हटाने पहुंचे बीडीओ अमरेश कुमार, सीओ सुमन कुमार, इंस्पेक्टर, थानाध्यक्ष समेत कई पदाधिकारियों ने घंटों से प्रदर्शनकारियों को समझा रहे थे, लेकिन लोग अपनी मांग व एसपी को बुलाने की मांग पर अड़े हैं।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.