रोहतास में कोरोना संक्रमित पुलिसकर्मियों का हौसला बढ़ाते हैं एसपी, मोबाइल पर लेते हैं हाल-चाल

रोहतास में पुलिसकर्मियों के लिए बना आइसोलेशन सेंटर। जागरण

अपनी ड्यूटी पर मुस्‍तैदी से जुटे रोहतास पुलिस के जवान भी कोरोना की चपेट में आ रहे हैं। अब तक तीन दर्जन से ज्‍यादा पुलिसकर्मी संक्रमित हो चुके हैं। एसपी आशीष भारती उनके स्‍वास्‍थ्‍य का हाल जानने के लिए नियमित फोन पर जानकारी लेते हैं।

Vyas ChandraSun, 09 May 2021 04:59 PM (IST)

डेहरी ऑन-सोन (रोहतास), संवाद सहयोगी। जिले में ड्यूटी के दौरान अबतक 35 पुलिसकर्मी कोरोना संक्रमित हुए है। उनमें से 18 संक्रमण से मुक्त हो चुके हैं। कोरोना संक्रमित पुलिसकर्मियों को स्थानीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय में बने पुलिस आइसोलेशन केंद्र में रखा गया है। उनके इलाज के लिए एक सेल भी गठित किया गया है। एसपी आशीष भारती ने बताया कि कोरोना महामारी की दूसरी लहर से जिले के निवासियों को बचाव के लिए रोहतास पुलिस लगातार फ्रंटलाइन कार्यकर्ता (Covid Frontline Worker) की तरह कार्य कर रही है।

पुलिसकर्मियों का मनोबल बढ़ाने का प्रयास 

एसपी ने बताया कि जिले के कोरोना संक्रमित पुलिसकर्मियों में आंशिक लक्षण हैं। उन्हें डेहरी उच्चतर माध्यमिक विद्यालय में बने पुलिस आइसोलेशन केंद्र में रखकर इलाज किया जा रहा है। कुछ होम आइसोलेशन में भी है। बताया कि वे स्वयं संक्रमित पुलिसकर्मियों व अधिकारियों से निरंतर दूरभाष पर संपर्क कर उनके स्वास्थ्य के संबंध में जानकारी ले रहे हैं। उनके शीघ्र स्वस्थ होने को ले आवश्यक कार्रवाई के लिए संबंधित कर्मियों को दिशानिर्देश दिया जा रहा है। उनके मनोबल को बढ़ाया जा रहा है। एसपी ने बताया कि कोरोना से संक्रमित पुलिस पदाधिकारियों व कर्मियों के उपचार के लिए स्थानीय बीएमपी दो अस्पताल के डॉ. चंद्रोदय कुमार आनंद को प्रतिनियुक्त किया गया है।

पुलिसकर्मियों के लिए किया गया है सेल का गठन 

उनके द्वारा संक्रमित पुलिस पदाधिकारियों व कर्मियों से प्रतिदिन फोन के माध्यम से तथा आइसोलेशन केंद्र का भ्रमण कर उनके स्वास्थ्य संबंधी जानकारी ली जा रही है। इसके अलावा विशेष परिस्थिति में अन्य चिकित्सकों से भी सलाह ली जा रही है।उन्होंने बताया कि कोविड-19 से संक्रमित पुलिसकर्मियों को आपातकालीन स्थिति में मदद पहुंचाने के लिए पुलिस अधीक्षक कार्यालय में पदस्थापित मुख्यालय पुलिस उपाधीक्षक बूंदी मांझी के नेतृत्व में एक सेल का गठन किया गया है । उनके सहयोग हेतु सार्जेंट मेजर रामाकांत प्रसाद व अन्य पुलिसकर्मियों को प्रतिनियुक्त किया गया है । यह सेल 24 घंटे कार्यरत है । इस सेल में चालक सहित एक वाहन को भी प्रतिनियुक्त किया गया है। उन्होंने बताया कि संक्रमित पुलिसकर्मियों को मोबाइल के माध्यम से नियमित संपर्क में रहने और अद्यतन स्थिति से अवगत कराने को निर्देशित किया गया है ।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.