65 बनाम 35 फीसद की होगी लड़ाई : मोदी

राज्य ब्यूरो, पटना : उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने कहा कि कांग्रेस व राजद सवर्ण और दलितों को लड़ाकर राजनीतिक लाभ उठाने की कोशिश कर रही है, जिसे कामयाब नहीं होने देंगे। बिहार में महागठबंधन टूट गया। जदयू भी हमारे साथ है। अब केंद्र और राज्य सरकार की उपलब्धियों को लेकर हम चुनाव मैदान में जाएंगे।

प्रदेश कार्यसमिति की बैठक को संबोधित करते हुए मोदी ने कहा कि बिहार में राजद व जदयू का गठबंधन इसलिए टूटा क्योंकि यह स्वाभाविक गठबंधन नहीं था। भाजपा और जदयू का गठबंधन स्वाभाविक गठबंधन है। इस बार 65 बनाम 35 प्रतिशत की लड़ाई है। 65 फीसद सामाजिक समीकरण हमारे साथ है, जबकि राजद-कांग्रेस के पास 35 फीसद है।

उन्होंने पेट्रोल और डीजल की कीमतों को लेकर 10 सितंबर के भारत बंद के दौरान राजद और कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने जमकर तोड़फोड़, ¨हसा और आगजनी की। इस बंद को जनता का समर्थन नहीं था, इसलिए इन दलों ने ¨हसा का सहारा लिया। बंद का उद्देश्य महंगाई नहीं था। जिस तरह से उत्पाद मचाया गया उससे राजद शासनकाल के दिनों की लोगों को याद दिला दी।

उपमुख्यमंत्री ने कहा कि अंतरराष्ट्रीय बाजारों में तेल की कीमतें 55 से बढ़कर 77 डॉलर प्रति बैरल हो गई है। तेल और डीजल की बिक्री से केंद्र सरकार को उत्पाद शुल्क के रूप में 229000 करोड़ और राज्यों के सरकारों को 184000 करोड़ का राजस्व मिलता है। एक रुपये कीमत कम करने से केंद्र सरकार को 15000 करोड़ का राजस्व कम हो जाता है। तेल की कीमतों पर लगे टैक्स से केंद्र और राज्य सरकारें जनकल्याण की योजनाएं चलाती हैं।

मोदी ने लोगों से इस मुद्दे पर धैर्य रखने की सलाह देते हुए कहा कि इस बात की पूरी संभावना है कि अंतरराष्ट्रीय बाजारों में तेल की कीमतें जल्द ही कम होंगी। अभी भी महंगाई की दर पांच प्रतिशत के करीब है, जबकि मनमोहन सिंह की सरकार में दस प्रतिशत से अधिक हो गई थी। केंद्र और बिहार की सरकारें भ्रष्टाचार के खिलाफ कार्रवाई के लिए बनी हैं। केंद्र सरकार ने भ्रष्टाचार के खिलाफ कार्रवाई के तहत तीन लाख से अधिक फर्जी कंपनियों को बंद कराया है। 4300 करोड़ की बेनामी संपत्तियों को जब्त किया है। देश छोड़कर भागे उद्यमियों की संपत्ति जब्त करने का कानून बना है। बिहार में भी भ्रष्टाचार के खिलाफ अभियान के तहत लालू परिवार के 141 भूखंड, 30 फ्लैट और सात मकान को जब्त किया गया है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.