31 जनवरी को शुरू होगा पल्स पोलियो टीकाकरण, चयनित स्थल पर कोविड टीकाकरण रहेगा स्थगित

रोहतास में 31 से शुरू होगा पोलियो का टीकाकरण। प्रतीकात्‍मक फोटो

कोरोना की वजह से लंबे अरसे से बंद पल्‍स पोलियो टीकाकरण अभियान 31 जनवरी से शुरू हो रहा है। जहां पर पोलियो का टीकाकरण किया जाएगा वहां कोरोना का टीकाकरण बंद रखा जाएगा। इसकी तैयारी तेज कर दी गई है।

Publish Date:Tue, 26 Jan 2021 11:58 AM (IST) Author: Vyas Chandra

जागरण संवाददाता, सासाराम (रोहतास)। कोरोना महामारी को ले गत कई महीनों से स्थगित जिले में पल्स पोलियो टीकाकरण अभियान 31 जनवरी से प्रारंभ हो जाएगा। इसके लिए सभी तैयारियां पूरी कर ली गई है। प्रभारी सिविल सर्जन डॉ केएन तिवारी ने बताया कि इस अवधि में चयनित स्थल पर कोविड टीकाकरण स्थगित रहेगा। पल्स पोलियो अभियान की समाप्ति के पश्चात ही कोविड-19 का टीकाकरण संचालित किया जाएगा। हालांकि सदर व अनुमंडलीय अस्पतालों में कोविड-19 टीकाकरण जारी रहेगा।

बहुत जरूरी है पोलियो का टीका लगवाना

डॉ. तिवारी ने कहा कि पोलियो से बचाव जरूरी है। पोलियो विषाणु से फैलने वाला एक भीषण संक्रामक रोग है जो आमतौर पर एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में संक्रमित मल के माध्यम से या गंदे हाथ से खाने के माध्यम से फैलता है। इस रोग के होने से बच्चे का पैर काफी कमजोर एवं पतला हो जाता है जिससे बच्चा चलने-फिरने में असमर्थ हो जाता है। कहा कि  पांच  साल तक के बच्चों के लिए पोलियो की खुराक बहुत जरूरी है। इससे पोलियो के वायरस को शरीर में पनपने की जगह नहीं मिलती है। पांच साल तक के बच्चों को बार-बार पोलियो की खुराक पिलाने से  ही पोलियो का समूल खात्मा संभव है। सरकार द्वारा समय समय पर पोलियो उन्मूलन के लिए सघन टीकाकरण अभियान को संचालित किया जाता है और यह समुदाय की जिम्मेदारी बनती है कि अपने पांच वर्ष के शिशुओं को पोलियो की खुराक जरूर दिलवाएं।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.