खाद की कालाबाजारी व अधिक कीमत वसूलने पर नवादा के किसानों का फूटा गुस्सा, एसएच किया जाम

किसानों का आरोप था कि यूरिया उपलब्ध रहने के बावजूद विक्रेता कृषि विभाग के कर्मियों की मिलीभगत से वितरण में धांधली कर रहे हैं। किसानों को दिनभर कतार में खड़ा रख शाम को खाली हाथ लौटा दिया जाता है।

Prashant KumarThu, 16 Sep 2021 03:42 PM (IST)
स्‍टेट हाइवे को जाम कर प्रदर्शन करते किसान। जागरण।

संवाद सूत्र, कौआकोल (नवादा)। विष्णु ट्रेडर्स भलुआही द्वारा यूरिया खाद वितरण में अनियमितता और निर्धारित राशि से अधिक कीमत वसूलने को लेकर आक्रोशित किसानों ने गुरुवार को एसएच 82 कौआकोल-रोह पथ को करमा मोड़ पर जाम किया। अलसुबह 4: 30 बजे से 10:40 तक करीब छह घंटे के जाम के दौरान मार्ग पर यातायात सेवा पूरी तरह से बाधित रहा। यात्री हलकान होते रहे। करीब छह घंटे के बाद कौआकोल थानाध्यक्ष कुमार राजीव रंजन ङ्क्षसह, एएसआइ शत्रुघ्न प्रसाद एवं अर्जुन राम ने किसानों को किसी तरह समझा बुझाकर जाम को हटवाया। जिसके बाद उस पथ पर यातायात चालू हो सका।

किसानों का आरोप था कि यूरिया उपलब्ध रहने के बावजूद संबंधित विक्रेता कृषि विभाग के कर्मियों की मिलीभगत से वितरण में धांधली कर रहे हैं। किसानों को दिनभर कतार में खड़ा रख शाम को खाली हाथ लौटा दिया जाता है। किसानों की समस्या को न तो कोई अधिकारी सुनने को तैयार हैं और न ही खाद विक्रेता। खाद विक्रेताओं की दुकानों पर वितरण के दरम्यान प्रतिनियुक्त दंडाधिकारी भी दुकानदार से मिल गए हैं। दिनभर कतार में खड़े रहने के बावजूद भी स्थानीय किसानों को निर्धारित दर पर खाद नहीं मिल पा रहा है, जबकि दूसरे प्रखंड के किसानों को पिछले दरवाजे से 450 से 500 रुपये लेकर खाद उपलब्ध कराया जा रहा है। 

इतना ही नहीं जिन किसानों को खाद समाप्त होने की बात कह लौटाया जाता है, उन्हीं किसानों को 500 रुपये में ब्लैक से खाद बिक्रेता द्वारा उपलब्ध करा दिया जा रहा है। समस्याओं से नाराज किसान गुरुवार को सड़क को जाम किया था। सूचना के बाद जाम स्थल पर 3कौआकोल बीडीओ व सीओ ने पहुंच कर खाद वितरण करवाये जाने का आश्वासन देकर जाम को हटवा दिया गया। जिसके बाद सभी किसान खाद लेने विष्णु ट्रेडर्स की दुकान पर गये। जहां विक्रेता द्वारा अपने सगे संबंधियों के साथ मिलकर किसानों के साथ मारपीट की गई।

इसकी सूचना देने पर सीओ तथा बीडीओ किसी ने सुधी लेने तक नहीं पहुंचा। इससे किसान आक्रोशित हो गुरुवार को पुन: सड़क जाम कर एसडीओ तथा डीएम को जाम स्थल पर पहुंच खाद विक्रेता द्वारा कतार में खड़े किसानों के साथ दंडाधिकारी के सामने मारपीट की मामले को लेकर कार्रवाई की मांग कर रहे थे। इधर खाद विक्रेता विनय कुमार ने भी किसानों द्वारा उसके साथ खाद वितरण के दरम्यान मारपीट किए जाने का आरोप लगाया है। बता दें कि कौआकोल में विभिन्न खाद विक्रेताओं के यहां प्रचुर मात्रा में यूरिया उपलब्ध रहनेेेे के बावजूद किसान परेशान हैं।

 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.