मुंबई पुलिस ने तीन साइबर अपराधियों को नवादा से किया गिरफ्तार, नगद सहित 35 एटीएम कार्ड, 18 पासबुक बरामद, जानिए कैसे करते थे फ्रॉड

जालसाजों के पास से मुंबई साइबर क्राइम की टीम ने 1 लाख 80 हजार रुपये नगद 35 एटीएम कार्ड 18 पासबुक एवं चेकबुक बरामद किए गए हैं। उन जालसाजों ने अन्य के बारे में भी जानकारी दी है। जिसके बाद उनकी गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जा रही है।

Prashant Kumar PandeyWed, 01 Dec 2021 03:18 PM (IST)
नवादा के अकबरपुर में पुलिस की गिरफ्त में शातिर अपराधी

 संसू, अकबरपुर, नवादा : मुंबई साइबर क्राइम की टीम ने अकबरपुर थाना की पुलिस की मदद से तीन साइबर अपराधियों को गिरफ्तार कर लिया। मंगलवार की रात लखमोहना गांव से चेतू राजवंशी के पुत्र गणेश राजवंशी, शंकर मांझी के पुत्र छोटू कुमार और काशीचक थाना क्षेत्र के चंडीनाेवां गांव से जगदीश सिंह के पुत्र यशपाल शर्मा को गिरफ्तार किया गया। जालसाजों के पास से 1 लाख 80 हजार रुपये नगद, 35 एटीएम कार्ड, 18 पासबुक एवं चेकबुक बरामद किए गए हैं। उन जालसाजों ने अपने अन्य साथियों के बारे में भी पुलिस को जानकारी दी है। जिसके बाद उनकी गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जा रही है। 

मुंबई साइबर क्राइम के इंस्पेक्टर टीम सहित अकबरपुर पहुंचे

अकबरपुर थानाध्यक्ष अजय कुमार ने बताया कि मुंबई साइबर क्राइम के इंस्पेक्टर समसा पाटिल, कांस्टेबल केशव ताकिक व अन्य अकबरपुर पहुंचे। साइबर अपराध के मामले में लखमोहना गांव से गणेश और छोटू को पकड़ कर कड़ी पूछताछ की गई। जिसमें उसने चंडीनोवां के यशपाल की जानकारी दी। जिसके बाद उसे भी गिरफ्तार कर लिया गया। यशपाल के घर की तलाशी के क्रम में 1.80 लाख रुपये नगद, 35 एटीएम कार्ड, 18 खाता एवं चेकबुक बरामद किया गया। तीनों से अकबरपुर थाना लाकर पूछताछ की गई। जिसमें अन्य कई साइबर अपराधियों के नाम सामने आए हैं, जिसे पकड़ने के लिए ताबड़तोड़ छापेमारी की जा रही है।

कई लोगों के बैंक का खाता एवं एटीएम खरीदते थे शातिर 

इधर चंडीनाेवां के साइबर अपराधी ने बताया कि अकबरपुर थाना क्षेत्र के लेदहा गांव के एक व्यक्ति की मदद से इस थाना क्षेत्र में कई लोगों के बैंक का खाता एवं एटीएम 10 हज़ार व 20 हजार में खरीदारी कर ली जाती थी और उसी के खाता पर फ्रॉड किए गए रुपए को मंगवा कर एटीएम के द्वारा निकाल लिया जाता था। इसी तरह का गोरख धंधा चल रहा था। 

यूनिट ऑफ केमिकल प्राइवेट कंपनी मुंबई का लगभग 10 लाख रुपये का फ्रॉड

मुंबई साइबर क्राइम के इंस्पेक्टर समसा पाटिल ने बताया कि यूनिट ऑफ केमिकल प्राइवेट कंपनी मुंबई का लगभग 10 लाख रुपये का फ्रॉड किया गया है। इसी तरह कई अन्य कंपनियों से फ्रॉड किया गया है। लगभग तीन करोड़ रुपये का मामला सामने आ रहा है। उन्होंने बताया कि इस तीनों को नवादा न्यायालय में पेश कर वहां से आदेश प्राप्त कर तीनों को मुंबई साइबर क्राइम ले जाकर गहन पूछताछ की जाएगी। बाकी लोगों को भी बहुत जल्द ही पकड़ा जाएगा।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.