भ्रष्टाचार को खत्म करने के लिए आगे आएं युवा : पप्पू यादव

फोटो 45

25 सालों में बिहार की सारी इंडस्ट्री हो गई बंद

बिहार की विरासत को संभालने में सरकार फेल संवाद सूत्र बेलागंज :

जाप के राष्ट्रीय अध्यक्ष सह पूर्व सासद राजेश रंजन उर्फ पप्पू यादव ने कहा कि राज्य में गरीबी, बेरोजगारी, भ्रष्टाचार एवं आतंक को मिटाने के लिए युवाओं को आगे आने की जरूरत है। युवाओं की सोच में बदलाव हो तो मगध की धरती से पूरे राज्य का विकास संभव है। वे रविवार को चाकन्द उच्च विद्यालय के मैदान में सभा को संबोधित कर रहे थे।

उन्होंने कहा कि एक पखवारे से पटना प्राकृतिक त्रासदी से जूझ रहा है। बाढ़, डेंगू और डायरिया के प्रकोप का सामान करना पड़ रहा है। सरकार ये बताये कि पटना की जनता के लिए क्या कर रही है । पूर्व सासद ने कहा कि बिहार में गया, राजगीर, नालन्दा तथा वैशाली जैसी विरासत को बचाने और उसे सहेजने में सरकार विफल रही है। एक जमाने में बिहार में दर्जनों चीनी मिलें हुआ करती थीं। किसान गन्ने की खेती से अपनी अर्थव्यवस्था सुदृढ़ किया करते थे। 25 सालों में बिहार की सारी इंडस्ट्री बंद हो गई । किसानों, मजदूरों और गरीब वर्ग के लोगों में भुखमरी आ गई। बिहार के विभिन्न जिलों में इतना तक कि बिहार कि राजधानी में भी आम जनता सुरक्षित नहीं है। हत्या, लूट की घटनाएं आम बात हो गई है। जबकि सरकार सुशासन की ढोल पीट रही है।

जाप अध्यक्ष ने कहा कि अगर यहा के युवा जागृत हो जाएं तो गया में एवं आसपास के क्षेत्रों में इतनी प्राकृतिक संपदा है कि गया को सबसे सुन्दर शहर बनाया जा सकता है।

राष्ट्रीय महासचिव एजाज अहमद, राष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष एखलाक अहमद, कार्यकारी प्रदेश अध्यक्ष उमैर खा, ज्योति चंद्रवंशी, वन्दना देवी, कंचन माला, पंकज कुमार, कार्यकारी जिलाध्यक्ष गौरव सिन्हा, युवा शक्ति जिलाध्यक्ष ओम यादव, पिन्टू मुखिया मौजूद थे।

1952 से 2019 तक इन राज्यों के विधानसभा चुनाव की हर जानकारी के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.