सोना-चांदी की सफाई के नाम पर शातिर ठगों ने जेवरात पर कर दिया हाथ साफ, हिसुआ में खूब हो रही ऐसी घटना

शातिर ठग ने केमिकल व पाउडर का प्रचार-प्रसार करने की बात कहते हुए महिलाओं को सोने-चांदी पीतल के बर्तन नए जैसा चमका देने झांसा दिया। उसके झांसे में आकर आधा दर्जन के करीब महिलाओं ने अपना पायल व अन्य चांदी के आभूषण चमकाने के लिए दी।

Sumita JaiswalThu, 23 Sep 2021 11:27 AM (IST)
गहने साफ करने के नाम पर भयंकर ठगी, सांकेतिक तस्‍वीर।

हिसुआ (नवादा), संवाद सूत्र। हिसुआ नगर के वार्ड संख्य-6 के खनखनापुर रोड़ के टीचर्स कालोनी में शातिर ठगों ने एक घर में घुसकर महिला से लाखों मूल्य के जेवरात ठग लिया। घटना को तीन शातिर ठगों ने अंजाम दिया। घटना मंगलवार को हुई।

बताया जाता है कि गिरोह के एक सदस्य जो गुलाबी रंग का शर्ट पहना हुआ था, खनखनापुर गली में आकर केमिकल व पाउडर का प्रचार-प्रसार करते हुए गली के महिलाओं को सोने-चांदी, पीतल के बर्तन चमकावा लेने का झांसा दिया। शातिर ठगों के झांसे में आकर गली-मुहल्ले के आधा दर्जन के करीब महिलाएं बाहर निकल अपना पायल व अन्य चांदी के आभूषण चमकाने के लिए दे दी। जिसे गिरोह के सदस्य ने चमकदार बनाकर वापस कर दिया। भीड़ बढऩे पर गिरोह के सदस्य ने महिलाओं को  केमिकल व पाउडर के बारे में बताया कि सोना-चांदी और पीतल के बर्तन व जेवरात को इससे साफ करने पर नया माफिक कर देता है। झांसा दिया कि वह चंद मिनटों में ही पुराने बर्तन और जेवर एकदम नए लगने लगेगा।

जिसके बाद शातिर लोगों ने महिलाओं के बीच आभूषणों को साफ करने का तरीका बताते हुए उक्त केमिकल व पाउडर को बांटते हुए कहा कि कंपनी का प्रचार प्रसार किया जा रहा है तथा सभी महिलाओं को अपने हीं घर में रहकर आभूषण को साफ करने के टिप्स दे चलता कर दिया।

एक महिला को निशाना बनाया

इस बीच शिक्षक मो. तौकीर आलम की बहन ठग गिरोह के झांसे में आ गई और अपनी शादी के सोने का नेकलेस, अंगुठी सहित अन्य समान साफ करने के लिए दे दी। साफ करने के दौरान ठग गिरोह के सदस्य ने घर से गर्म पानी लाने को कहा। जिसपर वह खुशी-खुशी गर्म पानी लाने के लिए अंदर चली गई। जब गर्म पानी लेकर आयी तो आभूषण साफ करने वाला युवक वहां से उसके आभूषण के साथ गायब था।

उनलोगों को आसपास नहीं देख रोते बिलखते घटना कि जानकारी अपने स्कूल गए भाई तौकीर आलम को मोबाइल पर दी। तौकीर ने बताया कि बहन को उसके ससुराल वालों ने तनिष्क का नेकलेस तथा अंगुठी दिया था। जिसे साफ कराने के लिए शातिर ठग गिरोह को दिया था। बताया कि करीब 4-5 भर का सोने का आभूषण था जिसकी कीमत करीब दो लाख से ज्यादा की होगी उचक्के लेकर फरार हो गया।  

सीसीटीवी में कैद हुई तस्वीर

स्कूल से आने के उपरांत तौकीर ने मुहल्ले में लगे सीसीटीवी फुटेज खंगाला तो पता चला कि शातिर ठग गिरोह के तीन सदस्य एक हीरो मोटरसाइकिल से आए थे। जिसमें पहला व्यक्ति मुहल्ले के मोड के समीप मोटरसाइकिल पर था, दूसरा सदस्य गली के मोड पर आनेजाने वालों की रेकी कर रहा था, जबकि तीसरा व्यक्ति आभूषण साफ करने के नाम पर घटना को अंजाम दिया। बताया कि आभूषण साफ करने वाला गिरोह का सदस्य गुलाबी रंग का शर्ट पहना था जो उक्त मोटरसाइकिल पर बैठ विश्वशांति चौक की ओर भाग गया। लेकिन जाम रहने के कारण कुछ ही समय में वापस लौट नवादा रोड की ओर चला गया।

बता दें कि नगर में इस प्रकार की घटनाएं खूब हो रही हैं। कुछ माह पूर्व सीएचसी में कार्यरत एक एएनम से इसी प्रकार ठगी की गई थी। जबकि करीब एक पखवाडा पूर्व प्रोफेसर कॉलनी में भी इस प्रकार की घटना को अंजाम दिया गया था।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.