Gaya: मिशन रविदास पाठशाला में बच्‍चों काे मिलती है अनुशासन की सीख, संविधान का दिया जाता है ज्ञान

मिशन रविदास पाठशाला में पढ़ते बच्‍चे। जागरण

गया के मानपुर में अखिल भारतीय रविदास धर्म संगठन की ओर से मिशन रविदास पाठशाला चलाई जाती है। इसमें बच्‍चों को निश्‍शुल्‍क शिक्षा दी जाती है। स्‍कूल के बाद दो घंटे तक बच्‍चों को व्‍यवहारिक शिक्षा दी जाती है। उन्‍हें संविधान का ज्ञान दिया जाता है।

Vyas ChandraFri, 19 Mar 2021 10:26 AM (IST)

विश्‍वनाथ प्रसाद, मानपुर (गया)। सरकारी स्‍कूलों में शिक्षा ग्रहण कर रहे बच्चे गुणवतापूर्ण शिक्षा ग्रहण करें। वे अनुशासित हों, संविधान के बारे में, अपने देश के बारे में जानें। इसी उदेश्य से गया जिले के छह प्रखंडों में रविदास मिशन पाठशाला खोला गई है। इस पाठशाला में स्‍कूल की अवधि के बाद पहली से पांचवीं तक के बच्‍चों को दो घंटे तक व्यवहारिक शिक्षा दी जाती है। स्‍कूल में पढ़ाए गए पाठ का अभ्‍यास भी कराया जाता है। इस दौरान अनुशासन, संविधान की जानकारी दी जाती है।

 

ऐसे हुई इस पाठशाला की शुरुआत 

अखिल भारतीय रविदास धर्म संगठन इकाई, गया के सदस्यों की एक बैठक 2019 के जनवरी माह में हुई थी। वहां काफी मंथन करने के बाद विचार किया गया के सरकारी विद्यालय में पढ़ने वाले बच्चे बेहतर शिक्षा हासिल कर इलाका नाम रौशन करें। इसके लिए उन्हें प्रतिदिन दो घंटे स्‍कूल समय के पूर्व या बाद में निशशुल्क शिक्षा दी जाए। इन बच्चों को शिक्षा देने के लिए एक शिक्षक रखने पर सहमति बनी। उनका मानदेय संगठन की ओर से देने का निर्णय लिया गया। उसके बाद छह प्रखंडों में मिशन पाठशाला की शुरुआत की गई। 

 

यहां चलती है यह विशेष पाठशाला

नगर निगम क्षेत्र के वार्ड नंबर 44 के भीम नगर खजुरिया रोड़ माड़नपुर, खिजरसराय के गंगा विगहा रविदास टोला,  कोच के भाम गांव, कोंच डीह में,  मानपुर के मस्तलीपुर,  हेड मानपुर के भीम नगर,  बोधगया के दरियापुर,  डहरिया बिगहा,  नगर प्रखंड के कटारी हील,  महकार के छतनी गांव,  अतरी के माफा,  फतेहपुर के रविदास टोला,  धनगांव एवं भारे गांव में रविदास मिशन पाठशाला चलती है। हर पाठशाला में 25 से 30 बच्चे पढ़ाई करते हैं। इसका असर भी दिखने लगा है। ये बच्‍चे विषय के साथ व्‍यावहारिक ज्ञान से भी परिपक्‍व हो रहे हैं।

सहयोग से चलती है यह पाठशाला

संगठन के जिलाध्यक्ष देवानंद देवशी ने कहा कि रविदास मिशन पाठशाला लोगों के सहयोग से चलाई जा रही है। इसके लिए नौकरी करने वाले एक दर्जन से अधिक लोग प्रतिमाह एक हजार रुपये देते हैं। मार्च के बाद और भी प्रखंडों में मिशन पाठशाला खोली जाएगी।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.