Gaya Weather Forecast:कभी हो रही बूंदाबांदी, बादलों की ओट से कभी खिल रही धूप, मौसम सुहावना

कभी तेज बारिश तो कभी बूंदाबांदी। फिर कभी खिली धूप। मौसम का हाल कुछ ऐसा ही है। मंगलवार सुबह की शुरुआत बूंदाबांदी से हुई। सुबह से ही आसमान में बादल उमड़ते-घुमड़ते रहे। हल्की-हल्की ठंडी हवा ताजगी का अहसास कराती रही।

Vyas ChandraTue, 19 Oct 2021 06:31 AM (IST)
गया और आसपास के जिले में सुबह से छाए रहे बादल। जागरण

गया, जागरण संवाददाता। Gaya Weather News: कभी तेज बारिश तो कभी बूंदाबांदी। फिर कभी खिली धूप। मौसम का हाल कुछ ऐसा ही है। मंगलवार सुबह की शुरुआत आसमान में छाए बादल और हवा के साथ कहीं-कहीं बूंदाबांदी से हुई। सुबह से ही आसमान में बादल उमड़ते-घुमड़ते रहे। हल्की-हल्की ठंडी हवा ताजगी का अहसास कराती रही। गया समेत औरंगाबाद, नवादा, कैमूर और रोहतास में कुछ स्‍थानों पर हल्‍की बारिश के आसार हैं। सोमवार काे भी शहर का मौसम पूरे दिन खुशनुमा बना रहा। शाम को भी आसमान में बादल छाए रहे। बारिश के  आसार रह-रहकर बनते रहे हैं। हालांकि शहर में मौसम विभाग के पूर्वानुमान के अनुसार बारिश नहीं हुई। बदले हुए मौसम के बीच गर्मी से शहरवासियों को राहत मिली है। हालांकि इस मौसम का प्रतिकूल प्रभाव लोगों की सेहत पर पड़ रहा है। 

दो-तीन दिनों तक ऐसा ही रहेगा मौसम 

मौसम विज्ञानी डा. जाकिर हुसैन ने कहा कि अभी कुछ इसी तरह के मौसम के रहने का अनुमान है। बारिश भी हो सकती है। मौसम में इस बदलाव की एक वजह बंगाल की खाड़ी के पश्चिम- मध्य में बना हुआ कम दबाव का क्षेत्र है। संभव है कि बारिश होने के बाद ठंडी हवाएं अधिकतम तापमान को नीचे लाएगी। बदले हुए मौसम के बीच अनेक घरों में एसी-कुलर बंद हो गए हैं।बता दें कि मानसून जाने के बाद भी बिहार के कई जिलों में बारिश का सिलसिला शुरू हो गया है। पश्चिम बंगाल उत्‍तरी उड़ीसा में बने लो प्रेशर एरिया के कारण ही बिहार में बारिश हो रही है। 20 अक्‍टूबर तक बिहार के कई जिलों में बारिश होगी। बारिश के कारण कई इलाके में जलजमाव की स्थिति हो गई। फसलों के लिए भी यह बारिश मुफीद नहीं है। लेकिन मौसम के इस बदलाव से लोगों को तपिश से राहत जरूर मिली है।  गया के टिकारी में 24 घंटे में 26.4 मिमी बारिश दर्ज की गई।  

 

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.