Gaya: 36 गांवों में दूध, मांस, अंडा और ऊन उत्पादन के आकलन को पशुपालन विभाग करा रहा सर्वेक्षण

36 गांवों में दूध मांस अंडा व ऊन उत्पादन का आकलन करने के लिए पशुपालन विभाग की ओर से सर्वेक्षण किया जा रहा है। सर्वेक्षण से जुड़े प्रगणक पर्यवेक्षक इस काम को करते हैं। केंद्र सरकार के स्तर से प्रखंडों में गांवों का चयन किया जाता है।

Prashant KumarFri, 24 Sep 2021 10:52 AM (IST)
दूध, मांस, अंडा और ऊन उत्पादन का हो रहा सर्वेक्षण। प्रतीकात्‍मक तस्‍वीर।

जागरण संवाददाता, गया। जिले के 36 गांवों में दूध, मांस, अंडा व ऊन उत्पादन का आकलन करने के लिए पशुपालन विभाग की ओर से सर्वेक्षण किया जा रहा है। सर्वेक्षण से जुड़े प्रगणक, पर्यवेक्षक इस काम को करते हैं। केंद्र सरकार के स्तर से प्रखंडों में गांवों का चयन किया जाता है। उन्हीं गांवों में प्रगणक जाकर दूध, मांस व अंडा के उत्पादन का आकलन करते हैं। सर्वेक्षण का यह काम ठंड, गर्मी और बरसात तीनों सीजन में किया जाता है। वित्तीय वर्ष 2020-21 के सर्वेक्षण के अनुसार में 36 हजार 947 गाय के दूध का आकलन किया गया। रिपोर्ट के अनुसार एक साल में अनुमानित एक करोड़ 53 लाख 68 हजार 68 किलोग्राम दूध का उत्पादन हुआ, जबकि तीन लाख 8 हजार 945 भैंस से 17 करोड़ 10 लाख 51 हजार 614 किलो दूध का उत्पादन हुआ। इधर, 2020-21 में बकरी के दूध का आकलन हुआ। उसमें अनुमानित 3 लाख 44 हजार 650 बकरियों से 71 लाख 72 हजार 947 किलो दूध उत्पादन हुआ।

बूचडख़ाना में अनुमानित 90 हजार 873 किलो मांस का हुआ उत्पादन

वित्तीय वर्ष 2020-21 में 12 हजार 27 खस्सी से अनुमानित 90 हजार 873 किलो मांस का उत्पादन हुआ, जबकि वयस्क सुअर का मांस एक साल में 4 लाख 11 हजार 699 किलो मांस उत्पादन हुआ। पाल्ट्री फार्म से चिकेन मीट की बात करें तो एक साल में 70 लाख 74 हजार 358 मुर्गियों से अनुमानित 64 लाख 67 हजार 684 किलो मांस का उत्पादन हुआ। अंडा उत्पादन की बात करें तो देसी मुर्गियों से 3 करोड़ 24 लाख 42 सौ 76 अंडों का उत्पादन हुआ।

इन गांवों में हो रहा दूध उत्पादन का सर्वेक्षण

प्रखंड-      गांव

गया शहर - वार्ड नंबर 1, 2, 3, 18, 21, 24 शेरघाटी - पंडौल, वार्ड नंबर 20 टिकारी - तेतारपुर, धंधैला, वार्ड-4 खिजरसराय - फतेहपुर, ङ्क्षबदौल बांकेबाजार - डुमरावां बोधगया - बारा फतेहपुर - सब्दो टनकुप्पा - सलारपुर मानपुर - नौघरिया, हर्ली नगर प्रखंड - गांगोबिगहा, बाजिदपुर, कोसमा आमस - छोटकी चिलनी गुरुआ - अकोथरा मोहड़ा - महापुर परैया - पुणाकला डुमरिया - चोन्हा बाराचट्टी - सरौंधा मोहनपुर - बारा, चौरी इमामगंज - बिराज, जलाहबिगहा, केंदुआ, गोजारा कोंच - विश्वनाथपुर

वित्तीष वर्ष 2020-21 में सर्वेक्षण के अनुसार दूध का अनुमानित उत्पादन

वित्तीय वर्ष 2020-21 में सर्वेक्षण के अनुसार मांस का अनुमानित उत्पादन

क्या कहते हैं अधिकारी

गया जिला नोडल सह सर्वेक्षण पदाधिकारी डॉ. आशीष रंजन ने कहा कि केंद्र सरकार द्वारा चयनित 36 गांवों में दूध, मांस, अंडा व ऊन का उत्पादन का अनुमानित आकलन किया जा रहा है। हरेक सीजन में प्रगणक गांवों में जाकर उत्पादन का आकलन करते हैं।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.