शादी के बाद भी ब्वॉयफ्रेंड की सताती थी याद, गया में पति को रास्ते से हटाने के लिए रच डाली ये साजिश

गया के शेरघाटी में एक शादीशुदा महिला ने अपने अपने पति की हत्या की ऐसी प्लानिंग की जिसे सुनकर आप दंग रह जाएंगे। अपने प्रेमी के साथ मिलकर उसने शार्प शूटर को हायर किया। सुपारी की रकम के लिए उसने जेवरात तक बेच डाला

Rahul KumarSun, 05 Dec 2021 05:17 PM (IST)
प्रेमी के लिए पत्नी ने कराई दी पति की हत्या। सांकेतिक तस्वीर

गया, जागरण संवाददाता। शेरघाटी थाना क्षेत्र में रूबी श्रृंगार दुकान के कर्मी तैयब आलम हत्याकांड का पर्दाफाश हो गया। कर्मी की हत्या के लिए कोतवाली थाना क्षेत्र की डा. वजीर अली रोड निवासी सह उसकी पत्नी अफशां प्रवीण ने अपने प्रेमी से मिलकर शार्प शूटर को सुपारी दी थी। सौदा दो लाख रुपये में तय हुआ था। पत्नी ने अपने जेवरात बेचकर प्रेमी के माध्यम से 80 हजार रुपये शार्प शूटर को अग्रिम तौर पर दिए थे। शनिवार को वरीय पुलिस अधीक्षक आदित्य कुमार की मौजूदगी में मृतक की पत्नी और पकड़े गए बदमाशों ने संवाददाता सम्मेलन में बताया कि हत्या सुनियोजित तरीके से की गई। 

तैयब हत्याकांड में आमस थाना क्षेत्र के हेमजापुर निवासी आरमानुल्लाह खान उर्फ फोटो खान, शेरघाटी थाना क्षेत्र के नवादा गांव निवासी पंकज पासवान, रामपुर थाना क्षेत्र के पुलिस केंद्र के पीछे जिशान रहमान व मृतक की पत्नी अफशां प्रवीण को गिरफ्तार किया गया। इन बदमाशों के पास से दो देसी कट्टा, पांच जिंदा कारतूस व घटना में प्रयुक्त मोबाइल बरामद किया गया है। बदमाशों ने स्वीकार किया कि तैयब की हत्या से पूर्व मगध मेडिकल थाना, आमस में तालिब हत्याकांड व गुरुआ थाना क्षेत्र में अविनाश हत्याकांड में भी वे शामिल थे। 

40 दिनों में हुआ तैयब हत्याकांड का राजफाश 

एसएसपी ने बताया कि शेरघाटी थाना क्षेत्र के सोनार टोली स्थित सड़क पर बदमाशों ने बीती 23 अक्टूबर को तैयब की गोली मारकर हत्या की थी। पुलिस ने इसे चुनौती के तौर पर लिया। घटना के उद्भेदन के लिए सिटी एसपी राकेश कुमार के नेतृत्व में डीएसपी शेरघाटी प्रमेंद्र भारती, शेरघाटी दिनेश कुमार, आमस के अनिल कुमार ङ्क्षसह व गुरुआ में दिवाकर विश्वकर्मा व डोभी थानाध्यक्ष अजय कुमार की विशेष टीम गठित की गई। इसी क्रम में हेमजापुर में किसी गंभीर घटना की साजिश रचते हुए बदमाश एकत्रित हुए। चार दिसंबर को हेमजापुर से शार्प शूटर फोटो खान, पंकज पासवान को पिस्तौल व गोली के साथ गिरफ्तार किया गया। उस वक्त कुछ बदमाश फरार हो गए थे। फरार बदमाशों की पहचान आमस थाना क्षेत्र के हेमजापुर निवासी मो. आरिफ खान उर्फ रेहान खान, बांकेबाजार के ङ्क्षसहपुर छोटू यादव  व जिशान रहमान के रूप में की गई। एसएसपी ने बताया कि इनपुट के आधार पर जांच आगे बढ़ी तो पूछताछ में हत्या की बात सामने आई। एसएसपी ने बताया कि विशेष टीम में शामिल रहे पुलिस पदाधिकारियों व सहयोग करने वालों को पुरस्कृत किया जाएगा। 

मृतक की पत्नी ने कहा, दो लाख रुपये में तय हुआ सौदा 

एसएसपी के समक्ष बदमाश व मृतक की पत्नी ने कहा कि उसने प्रेमी आरिफ खान उर्फ रेहान खान से पति की हत्या की बात की थी। उसके माध्यम से तीन बदमाश पंकज, फोटो व छोटू से संपर्क कर सुपारी देने के लिए दो लाख रुपये का सौदा तय हुआ था। 80 हजार रुपये अग्रिम दिए गए। बाकी पैसा हत्या होने के बाद दिए जाने को कहा गया। अभी महिला के पास 1.20 लाख रुपये बकाया हैं।

तैयब आलम हत्याकांड का शार्प शूटर व आमस के हेमजापुर का अरमानुल्ला खान उर्फ फोटो खान बेहद शातिर है। एसएसपी आदित्य कुमार ने बताया, वह पिछले छह वर्षो से फरार चल रहा था। उसने आमस में वर्ष 2017 में तालिब की हत्या की थी। 2012 में आर्मस एक्ट का मुकदमा दर्ज है। वर्ष 2011 में एक लड़की भगाने का भी मुकदमा है। यह राष्ट्रीय राजमार्ग पर ट्रकों से लूटपाट, फायरिंग, धमकाना और रंगदारी मांगने जैसे संगीन मामलों का आरोपित है। इसके खिलाफ मध्य प्रदेश के लसुरिया थाने में इसी वर्ष एक लड़की भगाने का मामला दर्ज है। धोखाघड़ी का एक मामला झारखंड के हंटरगंज थाने में लंबित है। मगध मेडिकल थाना क्षेत्र में वर्ष 2013 में भी इसने हत्या की थी। फोटो खान छह वर्ष पहले पुलिस को चकमा देकर फरार हो गया था। उसके सहयोगी शेरघाटी थाना के नवादा गांव निवासी पंकज पासवान ने गुरुआ थाना क्षेत्र में इसी साल आठ फरवरी को अविनाश की हत्या की थी। पंकज पर महिला थाने में वर्ष 2016 में दुष्कर्म व पॉक्सो का मामला भी दर्ज है। 

अनैतिक संबंध का हुआ पर्दाफाश 

एसएसपी ने बताया कि मृतक की पत्नी से पूछताछ में अनैतिक संबंध की जानकारी सामने आई है। मृतक का संबंध परिवार की एक महिला के साथ था। इससे पत्नी परेशान थी। मृतक की पत्नी का संबंध अपने पड़ोसी जिशान के साथ होने की बात सामने आई है। एसएसपी के अनुसार इसी कारण पत्नी ने हत्या की साजिश रची थी। एक महिला व एक पुरुष की गिरफ्तारी के लिए लगातार प्रयास चल रहा है। 

स्पीडी ट्रायल चलाकर दिलाएंगे सजा 

एसएसपी ने कहा, पकड़ी गई महिला समेत चार शातिरों को सजा दिलाने के लिए पर्याप्त साक्ष्य हैं, इसलिए इन शातिरों को स्पीडी ट्रायल चलवाकर जल्द सजा दिलाई जाएगी। पकड़े गए तीन बदमाशों के खिलाफ न्यायालय में पहले से चल रहे मुकदमों में भी सजा दिलाने का प्रयास होगा।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.