लगातार बारिश से नदियों में ऊफान, बेलागंज के कई गांवों में घुसा बाढ़ का पानी, प्रशासन रख रहा निगाह

पश्चिमी इलाके के दर्जन भर गांव के लोग नदी के बढ़ते जलस्तर से अपने घरों में कैद होकर रह गए हैं। शुक्रवार से लगातार तेज हवाओं के साथ हो रहे मूसलाधार बारिश ने बेलागंज प्रखंड क्षेत्र के पश्चिमी इलाके में रहने वाले लोगों के लिए कहर बनाकर आया है।

Prashant KumarMon, 02 Aug 2021 12:43 PM (IST)
बाढ का जायजा लेने निकले अधिकारी। जागरण।

संवाद सूत्र, बेलागंज (गया)। तेज हवाओं के साथ हुए मूसलाधार बारिश से सभी नदियां उफान पर है। बेलागंज के पश्चिमी इलाके से गुजरने  वाली जमुने, दरधा व मोरहर नही ने उग्र रूप धारण कर लिया है। जिससे नदी किनारे बसे गांव के लोगों में दहशत का महौल है। कई गांवों में बाढ़ का पानी घुस गया है तो कहीं तटबंध के कटाव से लोग दहशत में हैं।

प्रखंड क्षेत्र के पश्चिमी इलाके के दर्जन भर गांव के लोग नदी के बढ़ते जलस्तर से अपने घरों में कैद होकर रह गए हैं। शुक्रवार से लगातार तेज हवाओं के साथ हो रहे मूसलाधार बारिश ने बेलागंज प्रखंड क्षेत्र के पश्चिमी इलाके में रहने वाले लोगों के लिए कहर बनाकर आया है। दरधा और मोरहर नदी उफान पर है। नदी में आए बाढ़ से कोरियामा व पाई बिगहा पंचायत के दर्जन भर गांव में बाढ़ का पानी घुस गया है।

बाढ़ से सबसे अधिक प्रभावित मेन गांव का महादलित टोला शिव नगर, मेन, मनरसा, समसारा, मोरंगपुर, सुरौंधा, पंडा बिगहा व बाला बिगहा गांव हुआ है। एक तरफ जहां शिव नगर महादलित टोला में बाढ़ का पानी घुस जाने से लगभग पच्चीस घर महादलित परिवार गांव से पलायन करने पर मजबूर हो गए हैं। वही पंडा बिगहा, मोरंगपुर, सुरौन्धा व बाला बिगहा गांव के लोग तटबंध में तेजी से हो रहे कटाव से खौफ में हैं।

मोरहर नदी पर समसारा से मोरंगपुर पंडा बिगहा को जोड़ने वाला पुल को क्षतिग्रस्त हो जाने से कई गांव व टोलों का संपर्क टूट गया है। जिससे लोगों में और भी खौफ का महौल है। रविवार की दोपहर बाद बाढ़ की सूचना के बाद स्थानीय बीडीओ कुंदन कुमार ने बाढ़ ग्रस्त क्षेत्रों का जायजा लिया। बीडीओ ने बाढ़ प्रभावित क्षेत्र में बसे ग्रामीणों से अपील किया कि तत्काल कुछ समय के लिए नदी किनारे बसे लोग सुरक्षित स्थान पर चले जाएं।

वहीं बाढ़ के दौरान हुए क्षति का जायजा लिया जा रहा है। क्षति के आंकलन के उपरांत आपदा प्रबंधन के द्वारा पीड़ित परिवार को उचित मुआवजा दिलाया जायेगा। बीडीओ कुंदन कुमार ने बताया कि शिव नगर में बाढ़ का पानी घुस जाने से पलायन हुए पीड़ित परिवार को स्थानीय मुखिया व ग्रामीणों के सहयोग से सरकारी भवनों व गांव के मंदिरों में पनाह दिया गया है। पंचायत और प्रखंड स्तर से पीड़ित लोगों भोजन व आवासन की सुविधा उपलब्ध कराई जा रही है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.