नवादा के डीएम बोले, कोरोना की तीसरी लहर से लड़ने को तैयार, बेड व एंबुलेंस की हो रही व्‍यवस्‍था

तैयारियों की जानकारी देते डीएम यशपाल मीणा। जागरण

वर्चुअल प्रेस वार्ता में नवादा के डीएम यशपाल मीणा ने कहा कि कोरोना की दूसरी लहर का हम मुकाबला कर रहे हैं। सं‍भावित तीसरी लहर के लिए जिला प्रशासन तैयारी में जुटा है। एंबुलेंस बेड और ऑक्‍सीजन की व्‍यवस्‍था की जा रही है।

Vyas ChandraWed, 12 May 2021 03:15 PM (IST)

नवादा, संवाद सहयोगी। जिलाधिकारी यशपाल मीणा ने कहा है कि कोरोनी की दूसरी लहर (Second Wave of Corona) चल रही है। लॉकडाउन में संक्रमितों की संख्या में कमी आई है तो रिकवरी रेट भी बढ़ा है। पीएचसी स्तर पर भी संक्रमितों का इलाज चल रहा है। कई संक्रमित ठीक होकर अपने घर लौटे हैं। लेकिन कोरोना की तीसरी लहर (Third Wave of Corona) की भी चर्चा हो रही है। इसलिए जिले के प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों की व्यवस्था को सुदृढ़ किया जा रहा है, ताकि तीसरी लहर से निबट सकें। पीएचसी में बेड, एंबुलेंस, ऑक्सीजन सिलेंडर की व्यवस्था बढ़ाई जा रही है। वे बुधवार को वर्चुअल प्रेस वार्ता में बोल रहे थे। 

पीएचसी में बढ़ाई जा रही बेडों की संख्‍या 

उन्होंने बताया कि सभी पीएचसी में बेडों की संख्या बढ़ाई जा रही है। एक-एक अतिरिक्त एंबुलेंस की व्यवस्था की जा रही है। पथ निर्माण विभाग से दो एंबुलेंस मिले हैं, जिसे जिला स्वास्थ्य विभाग को दे दिया गया है। सांसद ने भी सात एंबुलेंस उपलब्ध कराने का आश्वासन दिया है। ऑक्सीजन की व्यवस्था सुदृढ़ की जा रही है। सदर अस्पताल में दो सेंट्रल स्टोर रूम बनाए गए हैं। एक स्टोर से सरकारी अस्पतालों और दूसरे से निजी अस्पतालों व घरों में भर्ती मरीजों को ऑक्सीजन सिलेंडर उपलब्ध कराया जा रहा है। ग्रामीण क्षेत्रों में तीन लाख मास्क वितरित कराए गए हैं। 

युवा वर्ग सबसे ज्यादा प्रभावित

डीएम ने कोरोना संक्रमण से जुड़े आंकड़ों की चर्चा के दौरान बताया कि जिले में सबसे ज्यादा युवा वर्ग प्रभावित हैं। 21 से 30 आयु वर्ग में सबसे ज्यादा 29 फीसद युवा संक्रमित हैं। उन्होंने बताया कि दो फीसद बच्चे भी संक्रमित हुए हैं, जिनकी आयु दस वर्ष से कम है। जबकि 80 से अधिक साल की आयु वर्ग में एक फीसद संक्रमण है। उन्होंने लोगों से अपील करते हुए कहा कि पूरी तरह सजग और स्वस्थ रहें। लॉकडाउन का पालन करें। बेवजह घर से बाहर नहीं निकलें।

छह एफआइआर तो डेढ़ सौ दुकानें सील

डीएम ने बताया कि लॉकडाउन का सख्ती से पालन कराया जा रहा है। नियमों का उल्लंघन करने पर अबतक छह प्राथमिकी दर्ज कराई गई है। वहीं करीब 150 दुकानों को सील कर दिया गया है। डीएम ने बताया कि ऐसी शिकायतें मिल रही थी कि बंद शटर के अंदर दुकानदारी जारी है। इसके आलोक में छापेमारी कराई गई। उन्होंने कहा कि आगे भी सख्ती जारी रहेगी। उन्होंने यह भी बताया कि वाहनों की जांच के क्रम में 5 लाख 83 हजार रुपये जुर्माना राशि की वसूली की गई है। 

संविदागत पांच चिकित्सकों ने दिया योगदान

डीएम ने बताया कि जिले में चिकित्सकों की कमी दूर करने के लिए संविदा पर बहाली प्रक्रिया जारी है। जिले में चिकित्सकों के 19 पद रिक्त हैं। इसके विरुद्ध वॉक-इन-इंटरव्यूह में पांच चिकित्सकों की बहाली की गई है। सभी नवबहाल चिकित्सकों ने सीएस के समक्ष योगदान दे दिया है। अन्य रिक्त पदों पर भी बहाली की जा रही है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.