भागलपुर से गया की मंडियोंं में पहुंचा स्‍वादिष्‍ट जर्दालू आम, स्‍वाद चखने को चुकाने होंगे इतने रुपये

अपने स्‍वाद और खुशबू के लिए प्रसिद्ध जर्दालू आम की आवक गया की मंडियो में हो चुकी है। हालांकि केवल सौ किलो के आसपास आम आया। इसकी बिक्री भी तुरंत हो गई। अब देखना है कि आमलोगों के लिए यह आम कब तक सुलभ होता है।

Vyas ChandraSat, 12 Jun 2021 01:07 PM (IST)
गया की मंडी में बेचने के लिए आया जर्दालु आम। जागरण

गया, जागरण संवाददाता। राष्ट्रपति भवन में जर्दालू आम (Jardalu Mangoes in President House) पहुंचने के बाद प्रधानमंत्री के आवास में भी अपने स्‍वाद का जादू बिखेर चुका है। अब यह गयावासियों को भी अपनी मधुरता का अहसास कराने पहुंंच गया है। जी हां, सही सुना। गया की मंडियों में जर्दालू आम की आवक हो चुकी है भागलपुर से करीब एक सौ किलो आम शहर के केदारनाथ मार्केट में मंगवाया गया है। मंडी में यह आम दो सौ रुपये किलो की दर से बिक रहा है। केदारनाथ मंंडी के थोक विक्रेता उदय कुमार ने कहा कि जर्दालू आम भागलपुर स्थित सुल्तानगंज की मधुबन नर्सरी से यहां आया है। दूसरे आम के अपेक्षा इसमें कई खूबि‍यां हैं। एक तो इसकी खुशबू ऐसी होती है कि लोगों का मन प्रसन्‍न हो जाता है। यह आम रसीला भी होता है। इसलिए यह लोगों को काफी पसंद आता है।  

कई बार ऑर्डर देने के बाद मंडी में पहुंचा आम
जर्दालू आम के लिए कई बार ऑर्डर दिया गया था। लेकिन ऑर्डर देने के बाद भी कॉफी कम मात्रा में ओम मंडी में पहुंचा है। फल विक्रेता कहते हैं कि जर्दालू आम का ऑर्डर काफी मात्रा में दिया गया था उनमें लेकिन ऑर्डर के बाद भी मात्र सौ किलो नाम मंडी में पहुंचा है और आगे आने की उम्मीद भी नहीं है। क्योंकि भागलपुर में ही जर्दालू की मांग अधिक है। इसलिए आवक कम है। 
देखते देखते मंडी से गायब हो गया जर्दालू
जर्दालू आम देखते देखते केदारनाथ मार्केट से गायब हो गया। क्योंकि जर्दालू आम एक ही दुकान में बिक रहा था। दो घंटे में सभी आम बिक गए। क्योंकि कई ग्राहकों ने  दुकानदार को पहले से ऑर्डर दे रखा था। गौरतलब है कि जर्दालू आम का भागलपुर में बहुतायत में उत्‍पादन होता है। पतली गुठली वाले इस फल के गूदे में रेशा नहीं होता। पकने के बाद इसकी खुशबू फैल जाती है। 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.