top menutop menutop menu

सीआरपीएफ कोबरा कैंप में विद्युत तार की चपेट में आकर जवान की मौत

बाराचट्टी (गया)। गया जिले के बाराचट्टी प्रखंड अंतर्गत सीआरपीएफ के कोबरा-205 बेस कैंप, बरवाडीह में रविवार को गणतंत्र दिवस समारोह के लिए टेंट-कनात लगाने के दौरान तीन जवान हाईवोल्टेज विद्युत तार की चपेट में आ गए। इससे एक जवान बुरी तरह झुलस गया। उसकी गया स्थित अनुग्रह नारायण मगध मेडिकल कॉलेज सह अस्पताल ले जाने के क्रम में मौत हो गई। मृतक कोबरा जवान 27 वर्षीय सुमित कुमार था। वह जहानाबाद जिले के थाना मखदुमपुर के ग्राम बोकनारी कला का निवासी था। पोस्टमॉर्टम के बाद गया स्थित 159वीं सीआरपीएफ बटालियन कैंप में उन्हें राजकीय सम्मान के साथ अंतिम सलामी दी गई। इसके बाद 26 जनवरी को ही जवान का पार्थिव शरीर राजकीय सम्मान के साथ उनके पैतृक गांव बोकनारी भेजा गया।

कोबरा के सहायक कमाडेंट शिवप्रताप ने बताया कि कैंप में गणतंत्र दिवस पर ध्वजारोहण किया गया था। इसके बाद सांस्कृतिक कार्यक्रम के लिए मुख्य द्वार के बगल में कनात लगाया जा रहा था। सुमित के साथ तीन जवान एक-दूसरे का सहयोग कर रहे थे। जिस जगह पर टेंट लग रहा था, वहीं ऊपर से ग्रामीण क्षेत्रों में बिजली आपूर्ति के लिए 11 हजार वोल्ट का विद्युत तार चारदीवारी के अंदर से गुजरा था। जैसे ही जवानों ने कनात को उठाया, लोहे के पाइप में बिजली प्रवाहित हो गई। झटके को महसूस कर कोबरा जवानों ने बचाव किया और वे अलग हो गए, लेकिन सुमित कुमार का हाथ चिपक गया। इस कारण वह करंट की चपेट में आकर गंभीर रूप से घायल हो गए। आनन-फानन में उन्हें कैंप के जवान व पदाधिकारी बाराचट्टी के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र लेकर पहुंचे। प्राथमिक उपचार के बाद उन्हें वहां से मगध मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल लाया जा रहा था, इसी दौरान रास्ते में उन्होंने दम तोड़ दिया। सहायक कमाडेंट ने बताया कि जवान की शहादत से पूरा कैंप शोकाकुल है। दुख की इस घड़ी में सभी लोग परिवार के साथ खड़े हैं। बताया गया कि सुमित का विवाह तय था, इसी वर्ष उनकी शादी होनी थी। सहायक कमाडेंट शिव प्रताप ने बताया कि सुमित के साथ टेंट लगाने के दौरान बिजली तार की चपेट में आकर झुलसे अन्य तीन जवान पूरी तरह सुरक्षित हैं।

------

सीआरपीएफ कैंप में दी गई अंतिम सलामी

गया में सीआरपीएफ के 159वीं वाहिनी कैंप मुख्यालय में जवान सुमित कुमार को अंतिम सलामी दी गई। इस मौके पर सीआरपीएफ पटना रेंज के डीआइजी संजय कुमार, कमांडेंट निशिथ कुमार, द्वितीय कमान अधिकारी सोहन सिंह, उप कमांडेंट मोतीलाल, अरुण कुमार सिंह सहित अन्य अधिकारियों ने पुष्पचक्र अर्पित किया और जवानों ने शस्त्र झुकाकर व गमगीन धुन बजाकर सलामी दी। बिजली विभाग की लापरवाही से हुई जवान की मौत :

बिजली तार की चपेट में आकर हुई सुमित की मौत से कोबरा जवानों व पदाधिकारियों में विद्युत विभाग के प्रति काफी आक्रोश है। कैंप के अंदर से बिजली का तार ले जाना किसी भी मायने में अनुचित है। बताया गया कि तार को हटाने के लिए विभागीय अधिकारियों ने कई बार बिजली विभाग के अधिकारियों को पत्र लिखा, लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई। लिहाजा, घटना के लिए पूरी तरह से विद्युत विभाग जिम्मेदार है।

-----

गम में बदलीं खुशियां, हर चेहरे पर दिखा साथी को खोने का दर्द :

गणतंत्र दिवस की तैयारी को लेकर कोबरा बेस कैंप में चारों तरफ जवानों व पदाधिकारियों में उत्साह व उल्लास का वातावरण था। कोई टेंट लगा रहा था तो कोई मंच की व्यवस्था में तल्लीन था। वहीं अधिकारियों के स्वजन अपने आवास पर गणतंत्र दिवस की तैयारियों में मशगूल थे, इसी बीच घटना होने से सन्नाटा व मातम पसर गया। सारी खुशियां काफूर हो गई और सांस्कृतिक कार्यक्रम को रद कर दिया गया।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.