केंद्रीय टीम ने नवादा के गांवों में की नल-जल योजना की जांच, देखी प्‍लास्टिक पाइप की गुणवत्‍ता

गांव पहुंचकर योजना की जांच करते केंद्रीय टीम के सदस्‍य। जागरण

नवादा के विभिन्‍न गांवों में पहुंचकर केंद्रीय टीम के अधिकारियों ने नल-जल योजना की जांच की। इस दौरान जलापूर्ति हो रही है या नहीं पाइप की क्‍वालिटी कैसी है समेत अन्‍य बातों का जायजा लिया। अधिकारियों को निर्देश भी दिए।

Publish Date:Wed, 02 Dec 2020 09:14 AM (IST) Author: Vyas Chandra

जेएनएन, नवादा। सिरदला प्रखंड क्षेत्र के बांधी व घघट पंचायतों में मुख्यमंत्री नल जल योजना की जांच के लिए केंद्रीय टीम पहुंची। टीम के अधिकारी रजनीश कुमार के साथ सुरेश कुमार, शीला कुमारी, मिथुन कुमार एवं रिया कुमारी योजना की स्थिति का जायजा लिया। ग्रामीणों से भी जानकारी ली।

बांधी के वार्ड नंबर 9 बांधी गांव में योजना की कई स्‍तर पर जांच की।  एक अधिकारी ने बताया कि एक मिनट में नल से करीब सात लीटर पानी प्रेशर से दिए जाने की जांच की गई। इस्‍तेमाल किए गए प्लास्टिक पाइप की गुणवत्ता के साथ हर घर तक नल पहुंचाई गई है या नहीं इसकी जांच गहनता पूर्वक की गई है। इस दौरान जांच संतोषजनक पाया गया। जांच टीम ने प्रखंड पंचायती राज पदाधिकारी अमरदीप कुमार,  मुखिया प्रतिनिधि नंदकिशोर गुप्ता, घघट पंचायत मुखिया प्रतिनिधि नरेश प्रसाद उर्फ भगत को आवश्यक निर्देश भी दिया। मौके  पर नल जल योजना के जेई मो. आबिद आलम, जेई  आलोक कुमार भी उपस्थित थे।

बता दें कि विधानसभा चुनाव के दौरान नल जल योजना में भ्रष्टाचार बड़ा मुद्दा बना था। विपक्ष ने इसे सरकार पर हमले का बड़ा अस्‍त्र बनाया था। इसको देखते हुए चुनाव बाद वापसी के साथ सरकार ने इस योजना की सघन जांच का निर्देश दिया है। जिला प्रशासन के स्तर से भी सभी पंचायतों व वार्डों में टीम गठित कर जांच दल को भेजा जा रहा है। पूर्व में भी जिला प्रशासन की टीम सिरदला प्रखंड के कई पंचायतों में नल-जल व गली-नाली योजनाओं की जांच कर चुकी है। रिपोर्ट डीएम को सौंपा गया है। नल-जल योजना में सबसे बड़ी कमी जो सामने आ रही है उसमें पाइप को मानक के अनुरूप तीन फीट गड्ढा खोदकर नहीं डाला जाना है। इसके अलावा कहीं मोटर की खराबी तो कहीं पानी टंकी में रिसाव आदि की समस्या सामने आ रही है। लोगों ने भी शिकायतें रखी हैं।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.