गया अंतरराष्‍ट्रीय हवाइ अड्डा पर मना आजादी का अमृत महोत्‍सव, आकर्षक रंगोली ने मोह लिया मन

अमृत महोत्‍सव पर बनी रंगोली देखते लोग। जागरण

गया इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर आजादी का अमृत महोत्सव का आयोजन किया गया। इस दौरान एयरलाइंस के कर्मियों ने आकर्षक रंगोली बनाकर लोगों का मन मोह लिया। कोरोना गाइडलाइन का सख्‍ती से अनुपालन करने की अपील लोगों से की गई।

Vyas ChandraTue, 13 Apr 2021 11:14 AM (IST)

बोधगया (गया), जागरण संवाददाता। कोरोना गाइडलाइन के बीच गया अंतरराष्‍ट्रीय हवाइअड्डा (International Airport of Gaya) इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर मंगलवार को देश की स्वतंत्रता की 75 वीं वर्षगांठ के उपलक्ष्य में आजादी का अमृत महोत्सव मनाया गया। इस अवसर पर एयरलाइंस के कर्मियों ने टर्मिनल के अंदर आकर्षक रंगोली बनाई। उनकी रंगोली को यात्री से लेकर अधिकारी तक निहारते रहे। रंगोलियों में भारतीय संस्‍कृति एक तरह से जीवंत हो गई। 

72 घंटे पूर्व का आरटीपीसीआर रिपोर्ट जरूरी

कोरोनावायरस के बढ़ते मामलों को देखते हुए गया एयरपोर्ट से महाराष्ट्र, पंजाब, केरल एवं दिल्ली से गया आने वाले यात्रियों के लिए जिला प्रशासन ने  आदेश जारी किया है। इसमें तत्काल प्रभाव से अनिवार्य रूप से 72 घंटे पूर्व तक का कोरोना आरटीपीसीआर (Covid-19 RTPCR) निगेटिव रिपोर्ट जरूरी होगी। बिना निगेटिव रिपोर्ट के यात्रियों को संबंधित एयरलाइंस से उक्त राज्यों से यात्रा प्रारंभ करने की अनुमति नहीं दी जाएगी।

या‍त्रा समाप्ति के बाद रहना होगा होम क्‍वारंटाइन

यह भी आदेश दिया गया है कि यात्रा समाप्ति के बाद इन यात्रियों को दस दिनों तक होम क्वारंटाइन में रहना अनिवार्य होगा। अन्य राज्यों से आने वाले यात्रियों को पूर्व में दिनांक 15 मार्च को बिहार सरकार के जारी निर्देश ही प्रभावी होंगे। इसके अनुसार गया एयरपोर्ट पर आगमन के उपरान्त रैंडम जांच कराई जाएगी। परिणाम के अनुसार एयरपोर्ट से बाहर जाने की अनुमति होगी। इसको लेकर एयरपोर्ट प्रशासन को पूरी तरह चौकस रहने का निर्देश दिया गया है।

मालूम हो कि पिछले वर्ष कोरोना वायरस फैलने के बाद हवाईसेवा बंद हो गई थी। महीनों तक यहां से हवाईजहाज का परिचालन बंद रहा। पिछले कुछ महीने से धीरे-धीरे सेवा पटरी पर आने लगी थी कि एक बार फिर से कोरोना बेहद तेज रफ्तार में फैलने लगा है। इसको देखते हुए हर स्‍तर पर सावधानी बरती जा रही है। बताया जाता है कि कोरोना की दूसरी लहर काफी खतरनाक है।

 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों से जुड़ी प्रमुख जानकारियों और आंकड़ों के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.