दिल्ली

उत्तर प्रदेश

पंजाब

बिहार

उत्तराखंड

हरियाणा

झारखण्ड

राजस्थान

जम्मू-कश्मीर

हिमाचल प्रदेश

पश्चिम बंगाल

ओडिशा

महाराष्ट्र

गुजरात

BSEB Bihar Board Intermediate Result: सुगंधा व साहिमा ने इंटर कॉमर्स में टॉप कर जिले का नाम किया रोशन

इंटर कॉमर्स टॉपर सुगंधा को केक खिलाती बहन। जागरण।

BSEB Bihar Board Intermediate Result सच्चिदानंद सिन्हा कॉलेज की दोनों छात्रा बनी बिहार टॉपर सुगंधा पढ़ लिखकर बनना चाहती है चार्टर अकाउंटेंट साहिमा आगे चलकर करना चाहती है न्यूज एंकरिंग प्राचार्य डॉ. वेद प्रकाश चतुर्वेदी ने की दोनों के उज्जवल भविष्य की कामना।

Prashant KumarFri, 26 Mar 2021 06:46 PM (IST)

शुभम/सुरेंद्र वैद्य, औरंगाबाद। बिहार विद्यालय परीक्षा समिति ने शुक्रवार को इंटरमीडिएट परीक्षा का परिणाम घोषित दिया। औरंगाबाद की दो बेटियों ने कॉमर्स में पहला एवं चौथा स्थान हासिल कर जिले व कॉलेज का नाम रोशन किया है। सच्चिदानंद सिन्हा महाविद्यालय की छात्रा सुगंधा कुमारी ने कॉमर्स में 471 अंक लाकर पहला स्थान प्राप्त किया, जबकि साहिमा बानो ने 467 अंक लाकर चौथे स्थान पर रही। दोनों ने अपनी सफलता का श्रेय माता-पिता को दिया।

सुगंधा बनना चाहती है चार्टर्ड अकाउंटेंट

ओबरा प्रखंड मुख्यालय के बेल मोड़ निवासी सुनील प्रसाद गुप्ता की पुत्री सुगंधा कुमारी चार्टर्ड अकाउंटेंट बनना चाहती है। सुगंधा ने बताया कि वह सच्चिदानंद सिन्हा महाविद्यालय की छात्रा है। उसने कहा कि गुरुजन एवं माता-पिता के मार्गदर्शन से आज मैंने ये स्थान प्राप्त किया है। घर पर मैं प्रतिदिन आठ से दस घंटे पढ़ाई करती थी। कहा कि अगर मन में लगन हो तो कोई भी जंग जीती जा सकती है। इस लगन के साथ मैंने पढ़ाई की जिसका परिणाम सामने है। सुगंधा के पिता व्यवसायी हैं, जबकि माता गृहिणी हैं। लॉकडाउन के दौरान महाविद्यालय एवं कोचिंग बंद रहने के कारण पढ़ाई में थोड़ी परेशानी हुई। लेकिन, फोन पर गुरुजन के मार्गदर्शन में पढ़ाई चलती रही। मैट्रिक की पढ़ाई लार्ड बुद्धा पब्लिक स्कूल से की। मैट्रिक में सुगंधा को 88 प्रतिशत नंबर आए थे।

घर में इंटर परीक्षा पास करने वाली पहली बेटी है साहिमा

(माता-पिता के साथ साहिमा)

ओबरा प्रखंड के बमनडीहा गांव निवासी मो. असलम अंसारी की पुत्री साहिमा बानो घर की पहली बेटी है, जिसने इंटर की परीक्षा पास की। साहिमा के पिता सरकारी शिक्षक हैं। वे गांव के ही प्राथमिक विद्यालय में बच्चों को शिक्षा देते हैं। मां गृहिणी हैं। साहिमा ने बताया कि वह आगे पढ़ाई करके न्यूज ऐंकर बनना चाहती है। साहिमा अपने नाना-नानी के घर कंचन बिगहा अतरौली में रहकर पढ़ाई करती थी। वह घर पर चार से पांच घंटे पढ़ाई करती थी। बताया कि मैट्रिक की परीक्षा में 88.2 प्रतिशत अंक प्राप्त की थी।

प्राचार्य डॉ. वेद प्रकाश चतुर्वेदी ने दोनों के उज्जवल भविष्य की कामना की

सच्चिदानंद सिन्हा कॉलेज के प्राचार्य डॉ. वेद प्रकाश चतुर्वेदी ने बताया कि सुगंधा व साहिमा दोनों शुरुआती दौर से ही पढ़ने में होनहार थीं। दोनों ने अपनी कठिन परिश्रम और लगन से बिहार में टॉप कर कॉलेज के साथ औरंगाबाद जिला का नाम रोशन किया है। प्राचार्य ने दाेनों के उज्जवल भविष्य की कामना की है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.